पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

निरीक्षण:इंदौर की थीम पर अब शहर में होगी सफाई, तड़के 3 से 5 बजे के बीच गंदगी समेटेंगे सफाईकर्मी

शिवपुरी8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कलेक्टर अक्षय कुमार सिंह सफाई व्यवस्था का जायजा लेते हुए। - Dainik Bhaskar
कलेक्टर अक्षय कुमार सिंह सफाई व्यवस्था का जायजा लेते हुए।
  • बुधवार सुबह 5.30 बजे निरीक्षण पर निकले कलेक्टर ने अिधकारियों को लगाई फटकार

इंदौर की थीम पर अब शहर के मुख्य चौराहों और बाजार की रात में ही सफाई होगी। तड़के 3-5 बजे तक मुख्य बाजार और चौराहों पर सफाई कर्मियों को गंदगी समेटने के निर्देश कलेक्टर अक्षय कुमार सिंह ने दिए हैं। खास बात यह है कि बुधवार अलसुबह 5.30 बजे जब माधव चौक चौराहे पर कलेक्टर औचक निरीक्षण को पहुंचे तो वहां गंदगी जमा थी। इससे नाराज कलेक्टर ने सीएमओ गोविंद भार्गव को निर्देश दिए कि इंसान के सोने के बाद और जागने से पहले के टाइम में गंदगी की सफाई करना शुरु करो। इसके बाद सीएमओ ओर नपा का सफाई अमला कलेक्टर से यस सर कहता नजर आया।

दरअसल स्वच्छता सर्वेक्षण 2020 की रिपोर्ट में इंदौर अव्वल रहा है और उससे सबक लेते हुए अब नगर पालिका के प्रशासक होने के नाते कलेक्टर अक्षय कुमार सिंह ने भी सबक लिया है। इसीलिए सार्वजनिक चौराहों और मुख्य बाजारों में जब सुबह-सुबह लोग घर से बाहर निकलें तो उन्हें सड़कों पर गंदगी नहीं वरन सफाई नजर आनी चाहिए और यह आदत एक दिन की नहीं वरन प्रतिदिन की होनी चाहिए। इंदौर और प्रदेश के अन्य महानगरों में रात को सफाई का क्रम चलता है इससे वहां सुबह उठते ही लोगों को सड़कें साफ मिलती है। क्या इस क्रम को हम शिवपुरी में नहीं दोहरा सकते। इसके बाद मौके पर मौजूद सीएमओ नगरपालिका गोविंद भार्गव और एई सचिन चौहान ने कहा कि हम आज से ही यह प्रक्रिया शुरू कर देते हैं और इसके बाद नपा के सफाई अमले को एचओ ने गुरुवार अलसुबह 3-5 बजे के बीच सड़कों की सफाई करने के निर्देश दिए।

माधव चौक पर जब कलेक्टर ने सफाई कर्मियों की उपस्थिति देखी तो वहां आधे से अधिक सफाई कर्मी मेट मौजूद नहीं थे। इसके बाद कलेक्टर गर्म हुए और बोले कि जब मुख्य चौराहे पर ही सफाई कर्मियों के यह हालात है तो शहर के अन्य हिस्सों में क्या होगा। यही नहीं उन्होंने बिना मास्क पहने सफाई कर्मियों को आडे हाथों लेकर कहा कि इन्हे पहले मास्क पहनाइए फिर इनसे काम लीजिए और जो मास्क नहीं पहने हैं उन पर फाइन लगाइए। इसके बाद सीएमओ गोविंद भार्गव यस सर कहकर वहां से रवाना हो गए।

शहर से ट्रंचिंग ग्राउंड शिफ्ट करने के दिए निर्देश
शहर के बड़ौदी पर बना ट्रंचिंग ग्राउंड भी अब नगरपालिका को शिफ्ट करना होगा। दरअसल यह शहर की घनी आबादी में आ गया है जिससे यहां डंप होने वाले कचरे के ढेर और गंदगी से शिवपुरी जेल और सीआरपीएफ की टुकड़ी को कभी भी खतरा उत्पन्न हो सकता है क्योंकि यहां अक्सर कचरे को आग लगा दी जाती है और दुर्गंध इतनी रहती है कि जेल के अंदर तक बंदियों को इस दुर्गंध से बीमारी का सामना करना पड़ता है। इसलिए बड़ौदी में बने 4.6 हेक्टेयर के ट्रंचिंग ग्राउंड को शिफ्ट करने की तैयारी नगरपालिका ने की है और इसके निरीक्षण के दौरान बुधवार को यहां कलेक्टर से भी दिशा निर्देश मिले हैं।

तड़के सफाई होने का सबसे बड़ा फायदा यह होगा कि शहर वासियों को सुबह अपनी दुकानों और घरों के आगे जमा गंदगी नहीं देखने मिलेगी। इससे स्वच्छता रैंकिंग भी बेहतर होगी।

3-5 बजे तक होगी सफाई
साहब से मिले निर्देश के बाद हमने तय किया है कि आज ही से हम अलसुबह 3-5 बजे के बीच मुख्य चौराहों और बाजारों की सफाई शुरू करा देंगे। ट्रेचिंग ग्राउंड के लिए भी निर्देश मिले हैं उसके लिए हम जगह ढूंढ रहे हैं।
गोविंद भार्गव, सीएमओ नगर पालिका शिवपुरी

चौराहे साफ होने चाहिए
रात को सोने के बाद और सुबह सोकर उठने से पहले लोगों को शहर के मुख्य बाजार और चौराहे साफ नजर आना चाहिए। हमें स्वच्छ रहना है तो स्वच्छता की आदत हमें डालनी होगी। आगामी स्वच्छता रैंकिंग हमारी बेहतर होगी।
अक्षय कुमार सिंह, कलेक्टर शिवपुरी

खबरें और भी हैं...