पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • Shivpuri
  • Father's Death At Night, Did Not Even Tell Daughter Till Morning, If Found Missing From Bed, The Patient Admitted Nearby Gave Information

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मेडिकल कॉलेज शिवपुरी का मामला:रात में पिता की मौत, सुबह तक बेटी को बताया भी नहीं, पलंग से गायब मिले तो पास में भर्ती मरीज ने दी सूचना

शिवपुरी14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • शव पैक रखा था, खाेलकर चेहरा दिखाया
  • जिस मेडिकल कॉलेज में पिता की मौत हुई, उसी से एमबीबीएस कर रही छात्रा बोली-पिता से रात 8:30 बजे मिलकर आई थी, रात 8 बजे का डेथ सर्टिफिकट थमा दिया

मेडिकल कॉलेज शिवपुरी के हॉस्पिटल के आईसोलेशन वार्ड में भर्ती 61 साल के व्यक्ति की रविवार की रात इलाज के दौरान मौत हो गई। कॉलेज हॉस्पिटल ने मौत रात 8 बजे होना बताया है, जबकि उसकी बेटी का कहना है कि उसकी पिता से रात 8.30 बजे बातचीत हुई थी। फिर मेरे मिलने के समय से 30 मिनट पहले का डेथ सर्टिफिकेट कैसे बन सकता है। बातचीत के दौरान पिता ठीक थे। छात्रा ने सिस्टम पर सवाल उठाते हुए अपने पिता की मौत के लिए प्रबंधन को जिम्मेदार ठहराया है। छात्रा ने कहा कि यदि रात में मौत हो गई थी तो सुबह तक सूचना क्यों नहीं दी।

जब सोमवार की सुबह उनके पलंग पर पहुंची तो पास में भर्ती मरीज ने बताया कि आपके पापा तो रात में ही खत्म हो गए। शव को भी पैक करके रख दिया गया था। सुबह खोलकर सिर्फ पापा का चेहरा दिखा दिया। मालूम हो कि छात्रा मेडिकल कॉलेज शिवपुरी में एमबीबीएस की छात्रा है और इसी कॉलेज के अस्पताल में उसके पिता की जान गई। शहर की फिजीकल रोड पर रहने वाले प्रसादीलाल शाक्य (61) की मौत हो गई। मेडिकल कॉलेज के अस्पताल स्थित आइसोलेशन वार्ड में भर्ती पिता से मिलने बेटी प्रगति शाक्य सोमवार की सुबह पहुंची तो उनके बेड पर दूसरा मरीज भर्ती मिला। प्रगति ने संबंधित मरीज व आसपास अन्य मरीजों से पिता के बारे में पूछा तो पता चला कि उन्हें तो यहां से रात में ही ले गए हैं। आईसीयू वार्ड में देखने के बाद स्टाफ व डॉक्टरों से बातचीत की तो पता चला कि पिता की मौत हो चुकी है।

प्रगति ने बताया कि वह मेडिकल कॉलेज शिवपुरी में एमबीबीएस की छात्रा है और यह दूसरा साल चल रहा है। पिता की हालत बिगड़ने पर कॉलेज के हॉस्पिटल में भर्ती कराया था। आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कर इलाज चल रहा था। छात्रा का कहना है कि वह रता 8:30 बजे पिता से मिलकर चली गई थी। लेकिन सुबह पता चला कि डेथ सर्टिफिकेट 8 बजे का जारी कर दिया है। वहीं उसका कहना है कि पिता का ऑक्सीजन लेवल नार्मल था। फिर ऐसा क्या हुआ कि उनकी मौत हो गई।

कंफ्यूजन हो गया होगा
डॉक्टर घड़ी देखकर ही मौत का समय डालता है। हो सकता है कि मृतक की बेटी को समय को लेकर कोई कन्फ्यूजन रहा हो। अस्पताल में मरीज गंभीर हालत में आ रहे हैं, जिससे हालात संभाल पाना मुश्किल हो रहा है। फिर भी हम कोशिश कर रहे हैं कि मरीजों की मौत ना हो।
-डॉ केबी वर्मा, अधीक्षक, हॉस्पिटल मेडिकल कॉलेज शिवपुरी

दोनों डोज लगे फिर भी जिला ई-गवर्नेंस मैनेजर और भाजपा महिला मोर्चा जिलाध्यक्ष की कोरोना से मौत
कोरोना पॉजिटिव जिला ई गवर्नेंस मैनेजर प्रशांत शर्मा (37) निवासी शिवपुरी की मेडिकल कॉलेज शिवपुरी में इलाज के दौरान सोमवार की सुबह 7 बजे मौत हो गई। फ्रंट लाइन वर्कर होने के कारण प्रशांत शर्मा को वैक्सीन के दोनों डाेज लग चुके थे। डीन डॉ अक्षय निगम ने बताया कि रविवार की रात में ही प्रशांत से बातचीत हुई थी, तब ठीक थे।

इसके अलावा भाजपा महिला मोर्चा की जिलाध्यक्ष बीनू शर्मा (50) पत्नी दिनेश शर्मा निवासी शिवपुरी की सोमवार की दोपहर इलाज के दौरान जिला अस्पताल में मौत हो गई है। हृदयघात से पति की पहले ही मौत हो चुकी थी। भाजपा महिला मोर्चा जिलाध्यक्ष की मौत के बाद पार्टी में शाेक की लहर दौड़ गई। उधर आंगनबाड़ी कार्यकर्ता ममता पत्नी (35) रवि मांझी निवासी संकट मोचन कॉलोनी वार्ड 4 पिछाेर की सोमवार की शाम पिछोर अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई। कार्यकर्ता ममता मांझी की ड्यूटी 18 साल से ऊपर वाले लोगों के वैक्सीन सर्वे में लगी थी।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- समय अनुसार अपने प्रयासों को अंजाम देते रहें। उचित परिणाम हासिल होंगे। युवा वर्ग अपने लक्ष्य के प्रति ध्यान केंद्रित रखें। समय अनुकूल है इसका भरपूर सदुपयोग करें। कुछ समय अध्यात्म में व्यतीत कर...

    और पढ़ें