केस दर्ज:ढाई करोड़ का क्रेशर काटकर ले जाने वाले शिवपुरी के दो ठेकेदारों सहित, 14-15 अन्य पर डकैती का केस दर्ज

शिवपुरीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • कोर्ट ने 10 दिसंबर तक एफआईआर दर्ज कर अवगत काने के आदेश दिए थे

जीडीसीएल कंपनी मुंबई के मारौरा खालसा पहाड़ी पर लगे ढाई करोड़ रु. कीमत के क्रेशर को काटकर ले जाने के मामले में बैराड़ थाना पुलिस ने सोमवार को मुकदमा दर्ज कर लिया है। विशेष न्यायाधीश शिवकांत एमपीडीपीके एक्ट जिला शिवपुरी के 8 दिसंबर के आदेश के पालन में धारा 156 (3) दप्रस के तहत डकैती सहित अन्य धाराओं में केस दर्ज कर मामला विवेचना में लिया है। कंपनी के प्रोजेक्ट मैनेजर फरियादी राजकुमार शर्मा निवासी राघवेंद्र नगर शिवपुरी ने वकील के माध्यम से विशेष न्यायाधीश शिवकांत एमपीडीपीके एक्ट जिला शिवपुरी से परिवाद दायर किया था। कोर्ट ने 10 दिसंबर तक एफआईआर दर्ज कर अवगत काने के आदेश दिए थे।

आदेश के पालन में बैराड़ थाना पुलिस ने सोमवार को चंद्र भानसिंह सिसौदिया पुत्र होतम सिंह निवासी मऊअर नदी के पास करैरा और अमित जाट पुत्र देवेंद्र जाट निवासी सर्किट हाउस के पास शिवपुरी सहित 14-15 अन्य लोगों के खिलाफ भादंसं की धारा 342, 392, 394, 395 एवं एमपीडीपीके एक्ट की धारा 11, 12, 13 के तहत केस दर्ज कर लिया है। प्रोजेक्ट मैनेजर का दायर परिवाद में कहना है कि 7 अक्टूबर 2021 से 16 नवंबर 2021 क्रेशर काटकर ले गए। पहले 7 लाख रु. कीमत की मोटरें ले गए। राजकुमार शर्मा का कहना है कि चंद्र भानसिंह व अमित जाट 14-15 अन्य लोगों के साथ क्रेशर प्लांट पर मय लोडिंग ट्रक लेकर पहुंचे और क्रेशर खोलना चालू कर दिया। कंपनी के चौकीदार ने इस बात की सूचना दी। विरोध करने पर चंद्रभान सिंह व अमित जाट ने मेरे व स्टाफ के साथ मारपीट की मोबाइल छीन लिए और कार क्रमांक एमपी33 सी 7993 में बंधक बना लिया। करीब एक घंटे तक बंधक रखा।

खबरें और भी हैं...