धर्म / मस्जिद के बजाए पुरुषों व महिलाओं ने पहली बार एक साथ घरों में पढ़ी नमाज

Instead of mosque, men and women prayed in homes together for the first time
X
Instead of mosque, men and women prayed in homes together for the first time

  • लोगों ने एक दूसरे से गले मिलने से किया परहेज, मोबाइल और वीडियो कॉलिंग के जरिए चलता रहा मुबारकबाद का सिलसिला

दैनिक भास्कर

May 24, 2020, 05:00 AM IST

शिवपुरी. लॉकडाउन की बंदिशों के बीच दाऊदी बोहरा समाज ने शनिवार को ईद उल फितर सादगी से मनाया। कोरोना वायरस संक्रमण के चलते अपने धर्मगुरु के फरमान का पालन करते हुए शहर में बोहरा समाज के सभी 600 परिवारों ने ईद पर पहली बार मस्जिद के बजाय अपने अपने घरों में पुरुष और महिलाओं ने एक साथ नमाज अदा की। नमाज में खुदा से कौम की तरक्की ,देश दुनिया में अमन चैन के साथ कोरोना महामारी को खत्म करने की दुआएं मांगी। 
लोगों ने एक दूसरे से गले मिलने से बचने के प्रयास में दूर से ही सलामती की दुआएं की। मोबाइल और वीडियो कॉलिंग पर एक दूसरे को ईद की मुबारकबाद सिलसिला दिनभर चला। इस दौरान दाऊदी बोहरा समाज के धर्मगुरु के ईद पर कौम के नाम संदेश एवं मौला की तकरीर का सीधा प्रसारण मोबाइल पर देखा और सुना। 
बच्चों को ईदी देते वक्त भी दिखाई सामाजिक दूरी, मस्जिद में नहीं बांटी सिवइयां: ईद उल फितर के मौके पर शनिवार को दाऊदी बोहरा समाज के बच्चों के चेहरे खुशी से लबरेज दिखे। पारंपरिक रूप से हर साल सेफी मस्जिद में मदरसा सेफिया की ओर से विभिन्न सांस्कृ़तिक कार्यक्रम आयोजित कर बच्चों को ईदी दी जाती है। लेकिन शनिवार को ऐसा नहीं हुआ। बच्चों को ईदी देते वक्त भी लोगों ने सामाजिक दूरी का ख्याल रखा। बोहरा मोहल्ला और सेफी चौक पर बच्चों के खिलौने की दुकान नहीं लगने दी गई। 

मुस्लिम समाज कल मनाएगा ईद, नमाज के वक्त ईदगाह पर चुनिंदा लोग ही पहुंचेंगे 

मुस्लिम समाज के लोगों को शनिवार को चांद दिखने का इंतजार रहा। चांद रविवार को दिखने पर मुस्लिम समाज सोमवार को ईद मनाएगा। ईद के मौके पर शहर में 457 साल बाद ऐतहासिक ईदगाह मैदान पर ईद की सामूहिक नमाज नहीं होंगी। शहरकाजी अतीकउल्ला कुरैशी की सदारत में कुछ चुनिंदा लोग ही ईदगाह परिसर में मुकर्रर वक्त पर ईद की विशेष नमाज अदा करेंगे। इसी प्रकार शहर की सभी 16 मुस्लिम बिरादरी की मस्जिदों में भी हाफिज के साथ सिर्फ 5 लोग ही नमाज के वक्त मौजूद रहेंगे। मुस्लिम समाज के सभी लोग अपने अपने घरों पर सुबह 9 बजे ईद की नमाज पढ़ेंगे।
विधायक ने घर पर जाकर दी ईद की मुबारकबाद 
दाऊदी बोहरा समाज ने ईद के मौके पर सोशल डिस्टेंस का खास ख्याल रखा। समाज के प्रवक्ता सिराज दाऊदी ने बताया कि लोगों ने मोबाइल और वीडियो कॉलिंग के जरिए अपने रिश्तेदारों मित्रों को ईद की मुबारकबाद पेश की। इस बीच क्षेत्रीय विधायक बाबू जंडैल मीणा बोहरा समाज के लोगों को ईद की मुबारकबाद देने घर पर पहुंचे। हर साल ईद के मौके पर जनप्रतिनिधि सेफी मस्जिद में समाजजन को ईद मुबारक कहने के लिए जुटते हैं। लेकिन इस बार कोरोना संकट के कारण मस्जिद में सन्नाटा रहा। विधायक श्री जंडैल का समाज के लोगों ने फूल माला पहनाकर इस्तकबाल किया। 
ईद के मौके पर जरूरतमंदों की सेवा कर गरीबों को दी जकात, बच्चों को बांटे कपड़े
ईद के मौके पर दाऊदी बोहरा समाज के आमिल जनाब खोजेमा नोमानी के आदेश का पालन करते हुए लोगों ने फिजूलखर्ची से परहेज किया। बचत के पैसों से गरीबों को जकात दी गई। छारबाग और किलो रोड क्षेत्र में बोहरा समाज के लोगों ने जाकर जरूरतमंद गरीबों को भोजन कराया। कई लोगों ने अपनी तरफ से गरीब परिवारों को सूखा राशन और उनके बच्चों को नए कपड़े उपहार में दिए। 
ईद के मौके पर दाऊदी बोहरा समाज के आमिल जनाब खोजेमा नोमानी के आदेश का पालन करते हुए लोगों ने फिजूलखर्ची से परहेज किया। बचत के पैसों से गरीबों को जकात दी गई। छारबाग और किलो रोड क्षेत्र में बोहरा समाज के लोगों ने जाकर जरूरतमंद गरीबों को भोजन कराया। कई लोगों ने अपनी तरफ से गरीब परिवारों को सूखा राशन और उनके बच्चों को नए कपड़े उपहार में दिए। 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना