पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सिंगल क्लिक योजना:जगन्नाथ ने लाल पर्चा दिखा सीएम से कहा- अब घर बन जाएगा

शिवपुरी13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • जिले के 52 बाढ़ पीड़ितों के खाते में आए 1-1 लाख रुपए, सीएम ने किया संवाद

जगन्नाथ जी! तुम्हारे खाते में मकान बनाने की राशि आई की नहीं। कुछ और मदद मिली। प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने जब यह सवाल पनघटा निवासी बाढ पीडित से पूछा तो जवाब में जगन्नाथ ने खुश होकर अपने हाथ में लाल पर्चे को दिखाकर बोला कि श्रीमानजी मुझे 95 हजार 600 रुपए मिल गए हैं। एक बार 5 हजार, फिर 6 हजार और 50 किलो अनाज के साथ लंप का तेल भी मिला है।

दरअसल सोमवार शाम 5 बजे जिले के एनआईसी कक्ष में सीएम ने ग्वालियर चंबल संभाग में और बाढ प्रभावित जिलों के लिए एक क्लिक योजना के माध्यम से प्रदेश में 31.11 करोड की राशि का वितरण किया। इस दौरान शिवपुरी जिले को भी एक क्लिक पर 52 खातों में 52 लाख रु पए ट्रांसफर किए गए।

दरअसल जिन लोगों के बाढ आने से मकान पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गए हैं। उनको मकान बनाने के लिए 2.50 लाख रुपए की राशि दी जा रही है जिसमें पहली किश्त के रुप में मंगलवार को 52 लोगों के खाते में 1-1 लाख रुपए ट्रांसफर किए गए।

अधिकारियों को निर्देश देकर सीएम बोले- कोई भी बाढ़ पीड़ित छूटे न, शिकायत आए तो दोबारा सर्वे करा लेना, वरना अधिकारी होंगे जिम्मेदार

सीएम ने बाढ पीडितों को क्या सहायता दी गई जब इस बारे में एनआईसी कक्ष में मौजूद जिला पंचायत सीईओ एच पी वर्मा से पूछा तो वह बोले कि 400 लोगों के खाते में पहले ही 1-1 लाख रुपए की राशि जारी हो चुकी है।

और 13 हजार 700 के मकान आंशिक क्षतिग्रस्त हुए हैं इनको भी राहत राशि दी गई है। इस दौरान सीएम ने स्पष्ट निर्देश देकर अधिकारियों से कहा कि ऐसे क्षेत्र चिन्हित करें जहां बार बार बाढ आती है और जिन लोगों के मकान बिल्कुल तालाब या नदी के पास हैँ तो उसकी भी मॉनीटरिंग करें।

इस संबंध में यदि वह परेशान होते हैँ तो उन्हें किसी ऊंची जगह पर बसाने की योजना बनाएं। यदि कोई शिकायतें अभी भी मुआवजा न मिलने की आ रही है तो ग्रामीणों की शिकायतों को गंभीरता से लें और उसका सर्वे कराएं।

यदि कोई जायज व्यक्ति सर्वे में छूटा तो इसकी जिम्मेदारी अधिकारी की स्वयं होगी। इसलिए अभी भी किसी का नुकसान हुआ है तो सर्वे कर नाम जोड दें। एनआईसी कक्ष में बैठक के दौरान सीईओ जिला पंचायत एच पी वर्मा, एडीएम उमेश शुक्ला, सीएमओ नगरपालिका शैलेष अवस्थी, एई सचिन चौहान, सीएमओ पूरन कुशवाह, डूडा के पीओ मधु श्रीवास्तव, क्राइसिस समूह के विपिन शुक्ला, धर्मगुरु पंडित अरुण शर्मा, शहर काजी बलीउद्दीन सहित राहत लेने वाले बाढ पीडित मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...