पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सुविधा:मेडिकल कॉलेज में बनेगी एलपीए लैब, इससे पता चलेगा टीबी मरीज पर कौन सी दवा ज्यादा प्रभावी

शिवपुरी2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • ्शिवपुरी मेडिकल कॉलेज में अब टीबी मरीज मेडिकल वार्ड में हो सकेंगे भर्ती

भोपाल, इंदौर, जबलपुर और ग्वालियर की तर्ज पर अब शिवपुरी में भी टीबी मरीजों की जांच और मेडिसन परीक्षण के लिए एलपीए मशीन स्थापित होगी। इस मशीन के माध्यम से जहां टीबी जांच की सुविधा आसान होगी और कौन-सी दवा चिकित्सक मरीज़ को देगा और कौन-सी प्रभावी मेडिसिन उन्हें जल्द ठीक करेगी,यह सुविधा मिल सकेगी।

खास बात यह है कि अब तक मरीज का इलाज टीबी हो जाने पर घर रहकर ही कराना होता था, लेकिन अब टीबी के मरीज को अस्पताल में भर्ती होने की सुविधा मिलेगी। इस संबंध में मेडिकल कॉलेज में आयोजित हुई बैठक को संबोधित कर डीन डॉ. अक्षय निगम ने एलपीए मशीन स्थापना की जानकारी दी।

जिला क्षय नियंत्रण अधिकारी डॉ. आशीष व्यास ने टीबी रोग से कैसे निपटें और डॉक्टर को किस तरह से मरीजों का परीक्षण कर उन्हें इलाज देना है, इस विषय में नई गतिविधियों से अवगत कराया।

दरअसल केंद्रीय स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी गाइडलाइन के तहत देश से 2025 तक टीवी को खत्म करने का लक्ष्य रखा गया है। डॉ आशीष व्यास ने बताया कि आगामी 4 सालों में उन्हें एक लाख की आबादी पर 44 केस से अधिक नहीं रखने हैं इतने केस रखने का अर्थ होगा कि हम टीबी को समूल नष्ट करने की प्रक्रिया कर रहे हैं और उसमें सफल भी हो रहे हैं।

आंकड़े देखें तो अभी एक लाख पर 260 से 280 तक मरीज देखे जाते हैं। ऐसे में 60 से 70 फीसदी मरीज की कमी एक साथ इस अभियान के माध्यम से होगी, जो छुटपुट रह भी जाएंगे वह इस अभियान के चलने से टीबी रोग से छुटकारा पा जाएंगे। टीबी हारेगा देश जीतेगा अभियान के तहत मेडिकल कॉलेज शिवपुरी में सीएमई का आयोजन शुक्रवार को किया गया।

जिसमें सतत शिक्षा चिकित्सा शिक्षा कार्यक्रम की जानकारी देते हुए डॉ. आशीष व्यास ने जूनियर और सीनियर रेजीडेंट चिकित्सकों को जानकारी दी। आईसीएमआर के सीनियर साइंटिस्ट डॉ. प्रशांत मिश्रा ने भी कई जानकारी दी। मेडिकल कॉलेज के डीन डॉ अक्षय निगम ने नेशनल स्ट्रेटेजिक प्लान 2017 से 2025 द्वारा किस तरह से टीबी उन्मूलन की दिशा में चिकित्सक मिलकर कार्य करेंगे इसकी जानकारी दी।

मेडिकल कॉलेज शिवपुरी में टीबी वार्ड भी बनेगा। कॉलेज के डीन अक्षय निगम ने बताया कि जैसे ही बिल्डिंग की शुरुआत होगी वैसे ही यहां मरीजों के इलाज के लिए टीबी वार्ड भी शुरू हो जाएगा। अब मेडिकल कॉलेज में टीबी के मरीज भी भर्ती होकर अपना इलाज करा सकेंगे।

प्राइवेट डॉक्टर ने टीबी मरीज खोज कर दिया तो उसे मिलेंगे 500 रुपए

मेडिकल कॉलेज के डॉक्टर को प्रशिक्षित करते हुए डॉ. आशीष व्यास ने कहा कि नई योजना के तहत जो भी प्राइवेट चिकित्सक टीवी के मरीज को खोज कर इलाज के लिए जिला चिकित्सालय भेजेगा उसे प्रति मरीज 500 का मानदेय दिया जाएगा। यह योजना सरकार ने प्रारंभ की है और इसमें निजी चिकित्सकों का सहयोग मिला तो टीबी की बीमारी 2025 तक समूल नष्ट होने की ओर होगी।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आप बहुत ही शांतिपूर्ण तरीके से अपने काम संपन्न करने में सक्षम रहेंगे। सभी का सहयोग रहेगा। सरकारी कार्यों में सफलता मिलेगी। घर के बड़े बुजुर्गों का मार्गदर्शन आपके लिए सुकून दायक रहेगा। न...

    और पढ़ें