23 दिन बाद भी नहीं मिली लावारिस बच्चे की मां:बस स्टैंड के पास छोड़कर चली गई थी मां, कुपोषण से ग्रस्त था मासूम, अब स्वस्थ

शिवपुरी11 दिन पहले
मासूम।

जिले के सिरसौद बस स्टैंड पर लावारिस मिले 2 साल के कुपोषित बच्चे के स्वास्थ्य में अब सुधार है। मासूम कु-पोषणता से बाहर आ चुका है। जिम्मेदार लावारिस की मां की तलाश कर रहे हैं। जब तक बच्चे की मां नहीं मिल जाती, तब तक बच्चे को बाल कल्याण समिति के आदेश पर ग्वालियर मातृछाया शिशुगृह में रखा है।

गोद लेने की प्रकिया शुरू की जाएगी

बाल विकास अधिकारी राघवेंद्र शर्मा ने बताया कि बच्चे के मां की तलाश के लिए प्रयास किए जा रहे हैं। जल्द ही विज्ञप्ति निकाल कर लावारिस बच्चे की मां को ढूंढना शुरू करेंगे। अगर बच्चे को जन्म देने वाली मां नहीं मिलती, तो उसे गोद देने की प्रक्रिया शुरू की जाएगी।

ठंड में तड़पता छोड़ गई थी मां

बच्चे को उसकी जन्म देने वाली मां करैरा तहसील के सिरसौद चौराहा स्थित यात्री प्रतीक्षालय में 15 दिसंबर की शाम सर्दी में तड़पता छोड़ गई थी। बच्चे को बाद में जिला अस्पताल लाया गया और वहां से मेडीकल कॉलेज ग्वालियर रैफर किया। 17 दिन उसका इलाज चला। बच्चा पूरी तरह से स्वस्थ हो गया है।