व्यवस्था / अब नहीं जाना होगा मुक्तिधाम, बस स्टैंड पर बनाया अस्थि कलश लॉकर

Muktidham will not go now, bone urn locker built at bus stand
X
Muktidham will not go now, bone urn locker built at bus stand

  • ग्रामीण बैंक समाजसेवी संस्था द्वारा बस स्टेंड पर अस्थि कलश लॉकर स्थापित किया गया है

दैनिक भास्कर

May 24, 2020, 05:00 AM IST

शिवपुरी. अब अपनों के गुजर जाने पर अस्थिकलश लेने परिजनों को मुक्तिधाम नहीं जाना पडेगा। इसके लिए ग्रामीण बैंक समाजसेवी संस्था द्वारा बस स्टेंड पर अस्थि कलश लॉकर स्थापित किया गया है। जहां मृतक के अस्थि कलश को विसर्जन के लिए  हरिद्वार, इलाहाबाद, सौरोंजी जाने से पहले दिवंगतों की अस्थियां परिजन यहां बने  लॉकर में अपने ताले के साथ रख सकेंगे। 
दरअसल शहर के पुराने मुक्तिधाम पर तो अस्थि कलश रखने के लिए लॉकर है। लेकिन बस स्टेंड के पास स्थित फतेहपुर और मनियर में बने मुक्तिधाम पर अस्थि कलश लॉकर नहीं थे। यहां मृतक के अंतिम संस्कार के बाद उनकी अस्थियों को रखने में परिजनों को परेशानी आती थी। जिसके चलते ग्रामीण बैंक समाज सेवा समिति द्वारा बस स्टैंड पर अस्थि कलश बैंक लॉकर बनवाया गया। इसके बनने से  हरिद्वार, इलाहाबाद, सौरोंजी से पहले लोग अपने परिवार के दिवंगत लोगों की अस्थि कलश यहां  रख सकेंगे। इस अस्थि कलश बैंक लॉकर का लोकार्पण शनिवार को कोलारस विधायक वीरेंद्र रघुवंशी और युवा समाज सेवी साक्षी त्रिपाठी ने किया। यहां निशुल्क लॉकर में अस्थियां रखीं जा सकेंगी। लॉकडाउन के दौरान  बड़ी संख्या में कई अस्थियां अभी यहां रखीं हुईं हैं क्योंकि इस समय लॉक डाउन के चलते दूसरे शहरों में जाने की अनुमति नहीं है। इस बीच अस्थि कलश ज्यादा हो गए हैं और इसे रखने लॉकर कम हैं। पिछले दिनों निराश्रितों के लिए काम करने वाली संस्था मंगलम ने भी एक अस्थि कलश बैंक मुक्तिधाम पर रखवाया था। इसी प्रकार अब ग्रामीण बैंक समाज सेवा समिति ने भी नए बस स्टैंड पर अस्थि कलश बैंक लॉकर बनवाया है। 
बैंक लॉकर के लोकार्पण पर ग्रामीण बैंक समाज सेवा समिति नीरज अग्रवाल, कपिल गुप्ता, अनिल त्रिपाठी, सीपी गोयल, अजय त्रिपाठी, शैलेन्द्र चौहान, अजय बंसल, राजाराम चौरसिया, हरीशंकर कोरी, गोपाल रजक, भगवान सिंह रावत, राजवर्धन सिह, रंजीत गुप्ता, अशोक कोचेटा सहित अन्य  लोग उपस्थित थे।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना