पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सीएमओ का दावा:सूअर पालकों को नपा का अल्टीमेटम, आज पंजीयन करा लें वरना आवारा माने जाएंगे सूअर

शिवपुरी20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
गाड़ी में भरकर ले जाते सूअर। - Dainik Bhaskar
गाड़ी में भरकर ले जाते सूअर।
  • 2 हजार से अधिक सूअर शहर से बाहर हुए, लेकिन डाटा का रिकॉर्ड नहीं

नगरपालिका ने सूअर पालकों को अल्टीमेटम जारी कर दिया है। सीधी चेतावनी देते हुए सीएमओ शैलेष अवस्थी ने कहा है कि पहले 7 दिन का समय दिया, किसी सूअर पालक ने पंजीयन नहीं कराया। अब तीन दिन का अल्टीमेटम निकलने में महज एक दिन शेष है और आज तक एक भी सूअर पालक ने पंजीयन नहीं कराया है। ऐसे में 7 सितंबर तक पंजीयन न कराने पर शहर के सारे सूअर लावारिस माने जाएंगे और इन सूअर के खिलाफ कोई भी कार्रवाई करने के लिए नगरपालिका स्वतंत्र रहेगी।

दरअसल नगरपालिका के बार -बार अल्टीमेटम के बाद भी सूअर पालक शहर से सूअर कम नहीं कर रहे हैं। नगरपालिका सीएमओ शैलेष अवस्थी का दावा है कि अब तक शहर से 2 हजार से अधिक सूअरों को सूअर पालक नगरपालिका के अल्टीमेटम जारी होने के बाद शहर से बाहर छोड़ चुके हैं, लेकिन 15 हजार से अधिक सूअर की संख्या शहर में हैं। ऐसे में जब सीएमओ से पूछा कि 2 हजार सूअर आप शहर से बाहर भेजने की बात कह रहे हैं तो इसका कोई डाटा दर्ज नगरपालिका में है, तो जवाब में सीएमओ बोले कि डाटा तो दर्ज नहीं है, लेकिन हमें, जो सूचना हमारे विभाग से मिल रही है उसके आधार पर 2 हजार से अधिक सूअर शहर से बाहर चले गए हैं। इसके फोटोग्राफ्स भी हमारे पास हैं।

शहर में पूर्व में पंजीकृत सिर्फ 7 सूअर पालक और नए सिरे से पंजीयन कराने एक भी सूअर पालक नहीं आया, आज अंतिम दिन : दरअसल शहर में 15 हजार से अधिक सूअर हैं और कई बार लोगों ने सूअर की चपेट में आकर घायल होने की शिकायत की है इसलिए नगरपालिका ने जब अल्टीमेटम दिया, तो पहली बार के अल्टीमेटम में एक भी सूअर पालक ने 4 सितंबर तक पंजीयन नहीं कराया। अंत में फिर से 3 दिन का अल्टीमेटम देकर सीएमओ ने 7 सितंबर तक सूअर पालकों से अपने पंजीयन नगरपालिका में कराने की मुनादी भी कराई, लेकिन एक भी सूअर पालक ने पंजीयन नहीं कराया। अब मंगलवार तक यदि इनके पंजीयन नहीं होते हैं,तो फिर नगरपालिका कार्रवाई को स्वतंत्र होगी।

दो मंत्री के निर्देश और दो वकीलों के नोटिस के बाद भी अब तक नहीं हटाए सूअर

दरअसल जब पिछले दौरे पर खेल मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया शिवपुरी विजिट पर आईं थीं वह नगरपालिका को सफाई दरोगा राकेश गेंचर के यहां शोक संवेदना व्यक्त करने गई थीं और इस दौरान उन्होंने प्रशासनिक अधिकारियों को सीधे निर्देश दिए थे कि सूअरों को शिवपुरी से हटवाइए कलेक्टर साहब। साथ ही प्रभारी मंत्री महेंद्र सिंह सिसोदिया ने भी कलेक्ट्रेट की बैठक के बाद कलेक्टर अक्षय कुमार सिंह को निर्देश देकर कहा था कि अग्रवाल धर्मशाला में वैक्सीनेशन शिविर के दौरान सूअर की समस्या लोगों ने बताई थी इस पर एक्शन लीजिए। इसके साथ ही पहले एडवोकेट विजय तिवारी और फिर एडवोकेट संजीव बिलगैंया ने भी नगरपालिका को सूअर मामले में कोर्ट के निर्देशों की अवमानना के नोटिस दिए। इस तरह दो प्रदेश के मंत्रियों और दो वकीलों की पहल के बाद भी नगरपालिका अब तक सूअरों को शहर से हटवा नहीं सकी है।

आदेश का पालन होगा

देखिए हमें जो विभागीय सूचना मिली है उसके अनुसार 2 हजार से अधिक वयस्क सूअर शहर से बाहर हो गए हैं। हमने सूअर पालकों को दूसरा अल्टीमेटम भी दे दिया है। जिसकी म्याद मंगलवार तक है। यदि सूअर पालक मंगलवार तक अपने पंजीयन नगरपालिका में नहीं कराते हैं, तो बुधवार से शहर के सारे सूअर लावारिस घोषित होंगे और फिर हम न्यायालय से मिले निर्देशों के अनुसार कार्रवाई करने स्वतंत्र रहेंगे। -शैलेष अवस्थी, सीएमओ नगरपालिका शिवपुरी

खबरें और भी हैं...