पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

जिला अस्पताल रेफर:उल्टियां होने के बाद सात बच्चों की हालत बिगड़ी, तीन दिन में चार की मौत, मेडिकल टीम पहुंची

शिवपुरी12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • कोलारस के बैरसिया गांव की आदिवासी बस्ती की घटना

कोलारस के वैरसिया गांव की आदिवासी कॉलोनी में सात बच्चों को उल्टियां के चलते हालत बिगड़ गई। तीन दिन में चार बच्चों की मौत हो गई, जबकि तीन बच्चे बीमार हो गए। मौत की स्पष्ट वजह सामने नहीं आ सकी है। हालांकि बताया जा रहा है कि बच्चों ने फेरी वाले से तरबूज खा लिया था।

जिससे उनकी हालत बिगड़ गई। वैरसिया गांव में नीलम (13) पुत्र हल्के आदिवासी व रामबाई आदिवासी, चमेली (10) पुत्री शिवचरण, प्रियंका आदिवासी (5) पुत्री सुखदेव आदिवासी और वंदना आदिवासी (2.6) पुत्र तोफन आदिवासी की मौत हो गई है। नीलम आदिवासी हर दिन की तरह 29 अप्रैल को बकरियां चराकर लौटा और सो गया। सुबह उल्टियां हुई तो परिजन कोलारस अस्पताल लाए। कोलारस से शिवपुरी जिला अस्पताल रेफर किया।

जिला अस्पताल से ग्वालियर ले जाते समय मोहना के पास दम तोड़ दिया। उसी दिन चमेली की मौत हो गई। 1 मई को प्रियंका आदिवासी और 2 मई को वंदना ने दम तोड़ दिया7 सूचना के बाद कोलारस से मेडिकल टीम गांव जा रही है। यहां दूसरे बच्चों का भी परीक्षण किया।

ढाई साल की वंदना आदिवासी ने मेडिकल टीम के सामने ही दम तोड़ा था। इसके अलावा तीन अन्य बच्चे राखी आदिवासी (3), सागर आदिवासी (5) और करनू आदिवासी (1.6) को कोलारस अस्पताल में भर्ती कराया था, जहां इलाज के बाद ठीक हो गए और घर भेज दिया था। मेडिकल टीम ने मृतक व बीमार बच्चों का आरटी पीसीआर टेस्ट कराया है।

बच्चों ने क्या खाया, परिजन नहीं बता पा रहे
मेडिकल टीम ने गांव पहुंचकर मृतक व बीमार बच्चों के परिजनों से बातचीत की है। लेकिन परिजन स्पष्ट कुछ भी नहीं बता पा रहे हैं। बच्चों ने ऐसा क्या खाया कि जिससे उनकी हालत बिगड़ी। पहले दिन नीलम के मुंह से झाग भी आया था। जिससे मौत की वजह कहीं ना कहीं विषाक्त भोजन खाने ही माना जा रहा है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव - कुछ समय से चल रही किसी दुविधा और बेचैनी से आज राहत मिलेगी। आध्यात्मिक और धार्मिक गतिविधियों में कुछ समय व्यतीत करना आपको पॉजिटिव बनाएगा। कोई महत्वपूर्ण सूचना मिल सकती है इसीलिए किसी भी फोन क...

    और पढ़ें