बदहाल सड़क / डेढ़ साल में दो सरकारें बदलीं, नहीं बनी सिटी फोरलेन रोड, बारिश में गड्‌ढे बढ़ाएंगे परेशानी

Two governments changed in one and a half year, City Fourlane Road did not become, in the rain the pit will increase trouble
X
Two governments changed in one and a half year, City Fourlane Road did not become, in the rain the pit will increase trouble

दैनिक भास्कर

Jul 01, 2020, 04:00 AM IST

शिवपुरी. प्रदेश में डेढ़ साल में दो सरकारें बदल गईं लेकिन लोक निर्माण विभाग शिवपुरी की सिटी फोरलेन सड़क नहीं बनवा सका। कठमई बस्ती स्थित फोरलेन तिराहा से शिवपुरी शहर के बीच से होते हुए रायश्री फोरलेन तिराहे तक 13.50 किमी लंबी सड़क का टेंडर विधानसभा चुनाव से ठीक पहले हो चुका था। 34.63 करोड़ रुपए लागत की उक्त सड़क का वर्कऑर्डर जनवरी 2019 को पीडब्ल्यूडी ने आरके जैन इन्फ्रा प्रोजेक्ट को जारी कर दिया, तब प्रदेश में कांग्रेस की सरकार आ चुकी थी। ठेकेदार ने सिटी फोरलेन सड़क को छोड़कर पहले पैकेज में शामिल ग्रामीण क्षेत्र की दूसरी सड़कों का काम शुरू करा दिया जिससे शिवपुरी सिटी फोरलेन सड़क अभी तक नहीं बन सकी। अब बारिश में गड्‌ढे परेशानी बढ़ाएंगे।
वर्तमान में बारिश का दौर शुरू होते ही सड़क में गड्‌ढे और ज्यादा गहरे हो गए हैं। खास बात यह है कि 29 सिंतबर 2019 को तत्कालीन पीडब्ल्यूडी के अधिकारी और ठेकेदार ने वादा किया था कि उक्त सड़क 30 जून 2020 तक बनाकर दे देंगे। लेकिन वादे के अनुरूप सड़क का काम खत्म करना तो दूर कहीं भी डामरीकरण नहीं कराया गया है।
विधायक ने खुद गैंती उठाई, फिर भी सड़क नहीं बनी 

1. भूमिपूजन के बाद पीडब्ल्यूडी ने सड़क का काम चालू नहीं कराया: सिटी फोरलेन सड़क निर्माण के लिए 20 जनवरी 2019 को विधायक यशोधरा राजे सिंधिया ने ग्वालियर बायपास चौराहे पर भूमिपूजन किया था लेकिन लोक निर्माण विभाग ने निर्माण कार्य शुरू नहीं कराया। ठेकेदार भी काम शुरू कराने को लेकर टालता रहा। 13.50 किमी सड़क का काम अभी तक अधूरा पड़ा है। 
2. काम शुरू नहीं हुआ तो विधायक ने खुद गैंती उठाई, फिर भी अनदेखी की: भूमिपूजन हो जाने के बाद ठेकेदार ने काम शुरू नहीं कराया। लोगों ने शिकायत कीं और विधायक यशोधरा राजे सिंधिया 29 सितंबर 2019 काे फिर से शिवपुरी आईं। खुद गैंती उठाई और काम की शुरुआत करा दी लेकिन ठेकेदार ने सड़क बनाने की जगह अकेली नालियों का काम बहुत धीमी गति से शुरू किया। 
एक साल फोरलेन बायपास चालू रहा, इस बीच नहीं बना पाए सड़क
पुराने बायपास पर ट्रैफिक बढ़ने से नए सिटी फोरलेन बायपास पर सारा ट्रैफिक मोड़ दिया था। एक साल तक ट्रैफिक वहीं से गुजरा, इस बीच सिटी फोरलेन सड़क बनाने का अच्छा मौका था। जिसे ठेकेदार व पीडब्ल्यूडी ने गवां दिया। वर्तमान में सारे हैवी ट्रैफिक पुराने बायपास से गुजर रहा है। हालांकि ग्वालियर बायपास से गुना नाके तक सड़क आसानी से बनाई जा सकती है। 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना