• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Harda
  • The Strike Continues On The Fifth Day, Demand To Be Given The Benefit Of Seniority From The Date Of Appointment

अध्यापकों ने कहा- पुरानी पेंशन लागू करो:हड़ताल पांचवे दिन भी जारी, नियुक्ति दिनांक से वरिष्ठता का लाभ दिए जाने की मांग

हरदा18 दिन पहले

शहर के वीर तेजाजी चौक पर आजाद अध्यापक संघ की अनिश्चित कालीन हड़ताल पांचवें दिन भी जारी है। पुरानी पेंशन योजना लागू करने, नियुक्ति दिनांक से वरिष्ठता, क्रमोन्नति और पदोन्नति जैसी मांगों के लिए अध्यापक संघ ने अनिश्चित कालीन हड़ताल शुरू कर दी है। आजाद अध्यापक शिक्षक संघ आज जिला स्तरीय अनिश्चित कालीन हड़ताल और धरना प्रदर्शन हरदा जिला मुख्यालय पर कर रहा है।

जिले के विभिन्न सरकारी स्कूलों के लगभग 225 से अधिक अध्यापक अपने संकुल पर शुक्रवार से अनिश्चितकालीन हड़ताल का आवेदन देकर हड़ताल पर बैठ गए हैं। हड़ताल संघ के जिलाध्यक्ष शैलेंद्र शर्मा ने बताया कि संघ ने बीते 6 माह से मनोकामना यात्रा संभागीय स्तर पर निकाल कर सरकार के सांसदों, विभागीय मंत्रियों, विधायकों को ज्ञापन देकर मांगों को हल के लिए निवेदन दिया। इसके बावजूद भी किसी भी स्तर पर बीते 4 सालों से लंबित मांगों के संबंध में ना तो कोई अधिकारी और ना ही कोई मंत्री विधायक कुछ कहने को तैयार है। इस कारण से अब शिक्षकों ने अनिश्चित कालीन हड़ताल का फैसला लिया है। अब हड़ताल तब तक जारी रहेगी जब तक समस्याओं को हल नहीं किया जाएगा।

संगठन के जिलाध्यक्ष शर्मा ने कहा कि जब अन्य राज्यों में पुरानी पेंशन लागू हो सकती है, तो फिर मध्यप्रदेश में क्यों नहीं हो सकती। प्रदेश के मुखिया को जल्दी से जल्दी पुरानी पेंशन लागू करने का निर्णय लेना चाहिए। मध्य प्रदेश के अलावा राजस्थान, छत्तीसगढ़, झारखंड और अब गुजरात में भी पेंशन लागू हो चुकी है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री शिक्षक कर्मचारियों की भावनाओं को समझते हुए पुरानी पेंशन को लागू करेंगे। शर्मा धरना प्रदर्शन में शामिल होकर अपने संवर्ग एवं कर्मचारियों की आवाज को बुलंद कर मध्य प्रदेश शासन तक पहुंचाने में सहयोग दें।

इस अवसर पर यह लोग रहे मौजूद
इस अवसर पर पीएस केवट, भोलानाथ पवार, राजेश छलोत्रे, राजेश कलमे, राजेंद्र दीक्षित, मनीष नेमा, संदीप अग्रवाल, यशवंत राठौर, राधेश्याम अहिरवार, लक्ष्मीचंद हरने, वीरेंद्र नायक, मोहनलाल, राजकुमार बारपेटे, मुकेश अहिरवार, सुखदेव अहिरवार, रमेश कुमार अहिरवार, अमरत सिंह यादव, गौरीशंकर जवारिया, अखिलेश पवार, अरुण गुजर आदि मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...