हरदा में संस्कृत सप्ताह:बाहेती कॉलोनी में 'किमर्थम संस्कृतम्' व्याख्यानमाला का हुआ आयोजन

हरदा4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

हरदा की बाहेती कॉलोनी में संस्कृत सप्ताह के अंतर्गत 'किमर्थम संस्कृतम्' व्याख्यान माला का आयोजन हुआ। डॉ. सीव्ही रमन यूनिवर्सिटी व संस्कृत भारती हरदा इकाई के संयुक्त तत्वावधान में व्याख्यानमाला में संस्कृत भारती के सदस्य पं. प्रफुल्ल दुबे ने संस्कृत भाषा की उत्पत्ति और महेश्वर सूत्रों के बारे में बताया।

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि माननीय पुलिस अधीक्षक मनीष अग्रवाल ने संस्कृत के गुण रहस्य, वैज्ञानिकता और सभी भाषाओं की जननी, देव भाषा व अपने बचपन में संस्कृत विषय पढ़कर उनके मन में जो अनुराग संस्कृत भाषा के प्रति हुआ उसके बारे में विस्तार से वर्णन किया।

उन्होंने सहज वह सारगर्भित रूप में आज की आवश्यकता, सुसंस्कृत सभ्य समाज, बच्चों में नैतिकता और संस्कार का विकास करने, हमारी खोई हुई विरासत, हमारी संस्कृति की पहचान, संस्कृत को जानने की आवश्यकता पर प्रकाश डाला और आने वाले समय में संस्कृत का महत्व कितना बढ़ रहा है, इसके बारे में भी बताया। साथ ही कहा कि केवल भारत ही नहीं अपितु विदेशों में भी संस्कृत भाषा को महत्व दिया जा रहा है।

मुख्य वक्ता बिजेंद्र शर्मा ने रामायण व गीता के उपदेशों से किस प्रकार आधुनिक भारत की नींव रखी जा रही है, इस पर प्रकाश डाला। कार्यक्रम के अध्यक्ष ओम नारायण शुक्ला ने संस्कृत भाषा के गौरव का वर्णन करते हुए विभिन्न शारीरिक और मानसिक रोगों से कैसे निजात पाया जा सकता है, इसके बारे में प्रकाश डाला।

विशेष अतिथि अनिरुद्ध तंवरजी ने संस्कृत भाषा के रहस्यों के बारे में बताते हुए वर्तमान समय में उसकी उपयोगिता के विषय में प्रकाश डाला। कार्यक्रम में शहर के गणमान्य व संस्कृत प्रेमी नागरिक उपस्थित हुए।

खबरें और भी हैं...