पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

कोरोनाकाल गाइडलाइन नहीं:प्रतिमा की ऊंचाई को लेकर असमंजस, टेंट-डीजे वाले नहीं ले पा रहे अाॅर्डर

बैतूलएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • मूर्तिकारों के पास नहीं आ रहे ऊंची प्रतिमाएं बनाने के लिए आॅर्डर, पिछले साल प्रतिमाओं से भरे रहते थे पंडाल
  • गाइडलाइन जारी करने को लेकर जगह-जगह से मांगें उठने लगी हैं

मुख्यमंत्री ने प्रदेश में दुर्गा प्रतिमाओं की स्थापना और पंडाल लगाने की अनुमति दे दी है लेकिन सीएम ने स्थानीय स्तरों पर निर्णय लेने की बात भी कही थी, इस कारण अब तक मूर्ति की ऊंचाई भी तय नहीं हो पाई है। वहीं अन्य गाइडलाइन साफ नहीं है कि प्रतिमा की ऊंचाई कितनी रखनी है, किन नियमों के तहत स्थापना की जानी है। टेंट लगने के लिए किन नियमों का पालन करना होगा। इन सभी काे लेकर स्थिति स्पष्ट नहीं है। इस कारण मूर्तिकार प्रतिमाएं नहीं बना पा रहे हैं, टेंट व्यवसायी समेत अन्य लोग आर्डर नहीं ले पा रहे हैं। गाइडलाइन जारी करने को लेकर जगह-जगह से मांगें उठने लगी हैं।

17 अक्टूबर से हैं नवरात्र : इस बार 17 अक्टूबर से नवरात्र पर्व आ रहा है, लेकिन इसके एक माह पहले से ही देवी प्रतिमा बनाने तथा पंडाल सजाने का काम शुरू हो जाता है। इस बार मूर्तिकारों सहित साउंड व्यवसायी, डीजे व्यवसायी, सार्वजनिक उत्सव समितियां भी पशोपेश में हैं, इस कारण सभी लोग जल्द निर्देश जारी होने की राह तक रहे हैं।

सूने पड़े मूर्तिकारों के पंडाल, इक्का-दुक्का मूर्ति ही बनाई, सभी 7 फीट से छोटी
जिन मूर्तिकारों के पंडालों में पैर रखने की जगह नहीं रहती थी वे सूने पड़े हैं। जो मूर्ति बना रहे हैं, उन्होंने भी इक्का-दुक्का मूर्ति ही बनाई हैं। अधिकांश मूर्तिकारों के पंडाल सूने पड़े हैं।

टिकारी निवासी विशाल प्रजापति ने बताया कि देवी प्रतिमा की ऊंचाई कितनी होगी इसे लेकर स्थिति क्लियर नहीं है। वैसे हम 7 फीट से कम ऊंची मूर्ति ही बना रहे हैं। केवल चार प्रतिमाएं ही हमने बनाई हैं। बहुत कम आर्डर आए हैं। बहुत से भक्त प्रतिमा की ऊंचाई तय होने के बाद ऑर्डर देने की बात कह रहे हैं।

पंडालाें में केवल हाथी बेचते मिले मूर्तिकार, कई अधूरी प्रतिमाएं भी रखी मिलीं
मूर्तिकारों के पंडालों में हाथी पूजन के लिए हाथी ही बनाए हैं। गुरुवार काे वह इन्हें बेचते हुए मिले। इस कारण पंडालों में छोटे हाथी ही दिखाई दिए। बड़ी प्रतिमाएं या तो बनाई नहीं जा रही हैं या फिर अधूरी हैं। जल्द कोई निर्णय होगा तो छोटी प्रतिमा की जगह बड़ी प्रतिमा बनवाकर निर्माण पूरा करेंगे ऐसा मूर्तिकार कह रहे हैं। टिकारी के दुर्गा प्रतिमा पंडालों में गुरुवार शाम इसी तरह की अधूरी प्रतिमाएं रखी मिलीं। मूर्तिकार इन्हें पूरा नहीं कर रहे हैं।

सीएम ने प्रदेश में दुर्गा प्रतिमा की स्थापना एवं पंडालों की अनुमति दी है : व्यापारी
गुरुवार को दुर्गा मंडल समितियों, टेंट व्यवसायी, डीजे और साउंड व्यवसायी, बैंड व्यवसायियों ने भारतीय जनता युवा मोर्चा के महामंत्री विकास प्रधान के नेतृत्व में जिला प्रशासन और भाजपा के जिलाध्यक्ष बाबला शुक्ला को ज्ञापन दिया। विकास प्रधान और कलश दीक्षित ने बताया दुर्गा महोत्सव सनातन समाज का सबसे बड़ा त्योहार है एवं सभी सनातन धर्मी इसे पूर्ण आस्था एवं उल्लास के साथ मनाते आए हैं। दुर्गा उत्सव को लेकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश में दुर्गा प्रतिमा की स्थापना एवं पंडालों की अनुमति दी है। लेकिन स्थानीय स्तर से गाइड लाइन जारी नहीं होने से मूर्तिकार, टेंट व्यवसायी सहित इससे जुड़े व्यवसायी ऑर्डर नहीं ले पा रहे हैं। लॉकडाउन के कारण वैसे ही इनकी आर्थिक स्थिति खराब है। उन्होंने जल्द ही निर्देश जारी करने की मांग की है।

प्रतिमा की ऊंचाई व अन्य काे लेकर जल्द आदेश जारी करेंगे
कितनी ऊंची प्रतिमाएं बनाई जा सकती हैं। इस पर जल्द ही तय करके निर्णय करके आदेश जारी किए जाएंगे। वहीं टेंट, साउंड और डीजीे सहित अन्य चीजों को लेकर भी निर्णय लिया जाएगा।
- राकेश सिंह, कलेक्टर, बैतूल

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आप अपने विश्वास तथा कार्य क्षमता द्वारा स्थितियों को और अधिक बेहतर बनाने का प्रयास करेंगे। और सफलता भी हासिल होगी। किसी प्रकार का प्रॉपर्टी संबंधी अगर कोई मामला रुका हुआ है तो आज उस पर अपना ध...

और पढ़ें