सितमगर काेराेना:आजाद वार्ड में उजड़ा परिवार, मां व 2 बेटियों की माैत, भाई-बहन पाढर अस्पताल में भर्ती

बैतूल6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • 194 नए पाॅजिटिव, अप्रैल में अब तक की संक्रमण दर 23.88 प्रतिशत

काेराेना का कहर लगातार जारी है। बुधवार काे शहर के काेठी बाजार क्षेत्र के आजाद वार्ड में एक परिवार की मां और दाे बेटियों की काेराेना से माैत हा़े गई। वे कुछ समय से पीड़ित थीं। इनमें से 80 साल की मां की माैत पाढर अस्पताल में हुई।

पाढर अस्पताल के डाॅ. विकास साेनवानी ने बताया एक महिला की माैत हुई है, वह संदिग्ध थी। इसके अलावा दाे की माैत जिला अस्पताल में हुई है। दाेनाें की रिपोर्ट पॉजिटिव थी। बुधवार काे 194 लाेगाें की रिपोर्ट पॉजिटिव निकली। इस माह 17573 सैंपलाें की जांच में 28 अप्रैल तक 4197 की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। अप्रैल की संक्रमण दर 23.88 प्रतिशत है। वहीं गंज में 5, काेठीबाजार माेक्षधाम में 4, मुलताई में एक व्यक्ति का अंतिम संस्कार हुआ। यहां ये निकले पाॅजिटिव : बैतूल में 34, सेहरा में 15, शाहपुर में 12, घोड़ाडोंगरी में 1, भीमपुर में 2, भैंसदेही में 9, चिचोली में 19, आठनेर में 31, आमला के अंतर्गत 25, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मुलताई के अंतर्गत 25 एवं सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र प्रभातपट्टन के अंतर्गत 21 पॉजिटिव आए हैं

परिवार का सदस्य बोला- सांस लेने में तकलीफ हाेने पर 3 दिन पहले 5 सदस्यों काे कराया था भर्ती, 2 घंटे के इंतजार के बाद मिला था बेड

बैतूल के आजाद वार्ड के रहने परिवार के एक सदस्य ने नाम न छापने की शर्त पर बताया कि परिवार के सभी पांच सदस्यों काे तीन दिन पहले दिन पहले सांस लेने में तकलीफ हाेने पर अस्पताल में भर्ती कराया था। उसने बताया कि एक सप्ताह पहले सभी काे बुखार आया था।

सभी का घर पर ही इलाज कराया। इसके बाद हालत सामान्य हा़े गई थी। तीन दिन पहले सभी काे सांस लेने में तकलीफ हाेने पर जिला अस्पताल लाए, जहां पर करीब दाे घंटे के इंतजार के बाद ऑक्सीजन बेड की व्यवस्था हुई। जिला अस्पताल में 55 साल इशरत की तथा 66 साल की नफीसा काे भर्ती कराया था।

वहीं 80 साल की मां हजरा बेगम का पाढर अस्पताल में इलाज किया जा रहा था। सदस्य के मुताबिक सुबह 10.30 बजे पाढर अस्पताल में 80 साल की मां ने दम ताेड़ा। जबकि दाेनाें बेटियों की जिला अस्पताल में माैत हुई। पाढर अस्पताल के डाॅ. साेनवानी ने बताया वृद्ध महिला की काेराेना संदिग्ध थी। सभी काे काेराेना प्रोटोकाल के तहत सुपुर्द खाक किया गया।

भाई और बहन गंभीर हालत में पाढर अस्पताल में भर्ती
आजाद वार्ड के इस परिवार के भाई और बहन गंभीर हालत में पाढर अस्पताल में भर्ती हैं। भाई वेंटिलेटर पर इलाज किया जा रहा है। उनकी हालत भी नाजुक बताई जा रही है।

जिला अस्पताल में भर्ती बेटियाे की रिपोर्ट थी पाॅजिटिव
जिला अस्पताल में भर्ती बेटियों की रिपोर्ट काेराेना पॉजिटिव थी। जिला अस्पताल के काेराेना वार्ड प्रभारी डाॅ. रानू वर्मा ने बताया अाजाद वार्ड की दाे महिलाअाें का माैत हुई है, लेकिन उनकी रिपोर्ट देखकर बताना पड़ेगा, कि वह काेराेना पॉजिटिव थी या नहीं।

कोविड वार्ड की बिजली सप्लाई 15 मिनट रही बंद

बुधवार शाम को जिला अस्पताल में केवल 6 रेमडेसिविर इंजेक्शन का स्टॉक ही बचा था। वहीं नया स्टाक नहीं आया। इधर जिला अस्पताल में मंगलवार शाम को स्वास्थ्य अमले के बीच उस समय हड़कंप मच गया जब केबल जलने के कारण न्यू कोविड वार्ड की बिजली सप्लाई 15 मिनट तक बंद रही।

इस वार्ड में पंखे कूलर समेत अन्य उपकरण बंद हो गए। इस दौरान मरीजों और उनके परिजनों को थोड़ी परेशानियां हुई । इधर केबल जलने के कारण अस्पताल प्रबंधन में हड़कंप मच गया। यह केबल जनरेटर और ट्रांसफार्मर की बिजली सप्लाई के बीच का केबल था।

जिसे बदलना पड़ा, इसके बाद बिजली सप्लाई शुरू हो सकी। सिविल सर्जन डॉ. अशोक बारंगा ने बताया कि न्यू कोविड वार्ड की सप्लाई केबल बदलने के लिए 15 मिनट बंद थी। मेंटेनेंस के लिए इस केबल को बदलना जरूरी था । इसी कारण सप्लाई बंद करवाई गयी थी ।

खबरें और भी हैं...