पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

तैयारी:पंडालों में बिना मास्क के नहीं कर सकेंगे देवी दर्शन, कोरोना संक्रमण काे देखते हुए समितियां कर रहीं बदलाव

बैतूल8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • सोशल डिस्टेंस के लिए बनेंगे दो फीट के घेरे

कोरोना महामारी के चलते इस बार नवरात्र महोत्सव बदले हुए स्वरूप में नजर अाएगा। दुर्गा उत्सव समिति भी संक्रमण काे देखते हुए नौ दिनों तक भाक्ताें काे सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करवाने के लिए तैयारी कर रही हैं। श्रद्धालुओं के बीच सोशल डिस्टेंस का पालन करवाने के लिए जहां देवी स्थापना स्थल पर दो-दो फीट के सफेद घेरे बनाए जाएंगे। सैनिटाइजर की व्यवस्था करने के साथ ही श्रद्धालुओं को मास्क पहनकर पंडालों में प्रवेश दिया जाएगा।

जिले में नवरात्र की तैयारियां शुरू हो गईं है। शहर में 100 से भी अधिक सार्वजनिक स्थानों पर देवी प्रतिमा की स्थापना की जाती है। कोरोना के संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए देवी दर्शन के लिए आने वाले श्रद्धालुअाें के बीच सोशल डिस्टेंस होना जरूरी है। इसके लिए सार्वजनिक दुर्गा उत्सव समितियां भी सचेत हैं। शहर के टिकारी क्षेत्र में स्थित जय अंबे दुर्गा उत्सव समिति के सचिव राकेश बंटी मालवीय ने बताया नवरात्र पर आने वाले श्रद्धालुओं के बीच सोशल डिस्टेंस बनाने के लिए आयोजन स्थल पर 2-2 फीट के घेरे बनाए जा रहे हैं। श्रद्धालुओं को इन घेरे में खड़े होकर ही प्रतिमा के दर्शन करना होगा।

आयोजन स्थल पर 300 घेरे बनाए जा रहे हैं। इन घेरों में खड़े होकर श्रद्धालु आरती में शामिल हो सकेंगे। समिति बांटेगी पांच हजार मास्क : समिति सचिव राकेश मालवीय ने बताया दर्शन तथा आरती में शामिल होने वाले श्रद्धालुओं के लिए मास्क पहनना आवश्यक है। जो भी बिना मास्क के आएगा, उसे समिति द्वारा मास्क दिया जाएगा। उन्होंने बताया यहां पर 5 हजार वर्गफीट जगह है। इसमें करीब 300 लोग 2-2 फीट की दूरी पर खड़े हाे सकते हैं। मास्क की व्यवस्था भी समिति द्वारा करेगी।

आयोजन स्थल पर रहेगी सैनिटाइजर मशीन : देवी पंडाल पर समितियों द्वारा सैनिटाइजर मशीन रखी जा रही है। हाथ सैनिटाइजर करके ही श्रद्धालुओं काे प्रसादी दी जाएगी। समिति के सदस्य हर आने और जाने वालों पर नजर रखेंगे। शासन द्वारा दी गई गाइड लाइन का पालन सांस्कृतिक कार्यक्रमों
के लिए होगा।

खबरें और भी हैं...