पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

स्मृति शेष:चुनाव प्रचार करने 1971 में स्पेशल बोगी से आए थे दिलीप कुमार

बैतूल22 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
बैतूल। दिलीप कुमार के साथ पूर्व विधायक राधाकृष्ण गर्ग के पुत्र नवनीत तथा जिलाध्यक्ष सुनील के पिता बालकिशन शर्मा। - Dainik Bhaskar
बैतूल। दिलीप कुमार के साथ पूर्व विधायक राधाकृष्ण गर्ग के पुत्र नवनीत तथा जिलाध्यक्ष सुनील के पिता बालकिशन शर्मा।
  • दो दिन रुके थे बैतूल, जानी वॉकर, संगीतकार नौशाद तथा गीतकार मजरूह सुल्तानपुरी भी आए थे

ट्रेजेडी किंग दिलीप कुमार का बुधवार सुबह निधन हो गया। बैतूल से दिलीप कुमार की यादें जुड़ी हुई हैं। 1971 में सांसद एनपीके साल्वे के चुनाव प्रचार करने के लिए दिलीप कुमार बैतूल ट्रेन में स्पेशल बाेगी से आए थे। उनके साथ एक्टर जानी वॉकर, संगीतकार नौशाद तथा गीतकार मजरुह सुल्तानपुरी भी बैतूल स्पेशल बोगी से आए थे। मुलताई के पूर्व विधायक राधा कृष्ण गर्ग उस समय एनपीके साल्वे के चुनाव संचालक थे। दो दिन तक बैतूल में रुके दिलीप कुमार ने बैतूल, मुलताई सहित अन्य जगह पर चुनाव प्रचार किया था। पूर्व विधायक राधाकृष्ण गर्ग ने बताया एनपीके साल्वे देश के बड़े कर सलाहकार थे। दिलीप कुमार से उनके अच्छे संबंध थे। साल्वे ने 1971 में बैतूल से सांसद का चुनाव लड़ा था। चुनाव प्रचार के दौरान उनकी आमसभा में बहुत भीड़ रहती थी। हर कोई उनकी झलक पाने के लिए बेताब रहता था। दिलीप कुमार के साथ जानी वॉकर, मजरुह सुल्तानपुरी तथा नौशाद ने दो दिन तक चुनाव प्रचार किया। इस दाैरान पूर्व विधायक राधा कृष्ण गर्ग के निवास पर सभी कलाकार आए थे।

दिलीप कुमार के कार चालक ने मारी थी साइकिल सवार को टक्कर

पूर्व विधायक राधाकृष्ण गर्ग ने बताया दिलीप कुमार जब चुनाव प्रचार करके बैतूल लौट रहे थे। ससुंद्रा के पास उनकी कार के चालक ने साइकिल सवार को टक्कर मार दी थी। जिससे साइकिल सवार घायल हो गया था। इस मामले में बाद में आपसी समझौता हो गया था। निकाह में भी हुए थे शामिल : दिलीप कुमार बैतूल में एक निकाह में शामिल होने भी आए थे। अख्तर पटेल की बेटी सुल्ताना परवीन के निकाह में भी शामिल होने के लिए एनपीके साल्वे के साथ शामिल हुए थे। देवगांव निवासी अख्तर पटेल कांग्रेस के नेता थे। दिलीप कुमार के निकाह में शामिल होने की खबर से आसपास के इलाके के लोग भी यहां पहुंच गए थे।

खबरें और भी हैं...