पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

श्रीकृष्ण का जन्मोत्सव:बालाजीपुरम में मनी जन्माष्टमी, कई जगह आज मनेगी

बैतूलएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • कोरोना महामारी के चलते केवल पंडितों ने ही की श्रीकृष्ण जन्माष्टमी पर पूजा-अर्चना

श्रीकृष्ण जन्माष्टमी का पर्व दो दिनों तक मनाया जा रहा है। मंगलवार रात बालाजी मंदिर में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी मनाई। यहां रात 12 बजे श्रीकृष्ण का जन्मोत्सव मनाया। इस अवसर पर पूजन और भजन के साथ आरती की।
कोरोना महामारी के चलते केवल पंडितों ने ही श्रीकृष्ण जन्माष्टमी पर पूजा-अर्चना, अभिषेक किया। शहर के मंदिरों में बुधवार रात जन्माष्टमी का पर्व मनाया जाएगा । इसको लेकर तैयारियां की जा रही है। बालाजीपुरम में इस बार श्रीकृष्ण जन्माष्टमी पर्व का कार्यक्रम कोरोना की गाइड लाइन के तहत मनाया। इस अवसर पर राधा-कृष्ण का विशेष शृंगार किया। मंदिर में कंस और राक्षसों का जुलूस, कृष्ण जन्मलीला आदि के कार्यक्रम आयोजित नहीं किए। रात 11 बजकर 44 मिनट पर मंदिर में नंदलाला के स्वागत में पूजन और भजन किए।
इधर शहर के मंदिरों में बुधवार को कृष्ण जन्माष्टमी का पर्व
मनाया जाएगा। शहर के पंजाबी कृष्ण मंदिर, सदर के कृष्ण मंदिर सहित अन्य मंदिरों में जन्माष्टमी का पर्व मनाया जाएगा। कोरोना गाइड लाइन के कारण जुलूस और मटकी फोड़ के आयोजन नहीं होंगे।
मंदिरों और घरों में मनेगा जन्मोत्सव, नहीं सजेगी झांकी
सदर क्षेत्र में यादव समाज श्रीकृष्ण जन्माष्टमी का आयोजन हर साल धूमधाम से करता है। इस अवसर पर गोकुल धाम और छोटी ग्वालटोली में बड़े स्तर पर आयोजन होते हैं। इस बार काेराेना संक्रमण के चलते मंदिरों और घरों में ही कृष्ण जन्म के आयोजन होंगे। इस अवसर पर झंाकी भी नहीं सजाई जाएगी। यह पहला मौका है, जब मंदिराें और घराें में कृष्ण जन्मोत्सव सादगी और सोशल डिस्टेंस के साथ मनाया जा रहा है। न ताे मंदिराें में श्रद्धालुओं की भीड़ जमा हाे रही है, न मटकी फाेड़ जैसे आयाेजन किए जा रहे हैं।

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- इस समय आर्थिक पक्ष पहले से अधिक सक्षम और सुदृढ़ स्थिति में रहेगा। कुछ समय से चल रही चिंताओं से राहत मिलेगी। परिवार के लोगों की हर छोटी-मोटी जरूरतें पूरी करने में आपको आनंद आएगा। अचानक ही किसी ...

और पढ़ें