पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

जन संकल्प से हारेगा कोरोना:कोरोना को हराकर 85 साल की मिटको बाई बोलीं-उम्र से नहीं, हम अपने मन से हारते हैं

बैतूलएक दिन पहले
  • कॉपी लिंक
आठनेर। मिटको बाई काे घर भेजते हुए डॉक्टर। - Dainik Bhaskar
आठनेर। मिटको बाई काे घर भेजते हुए डॉक्टर।
  • गंभीर संक्रमण होने के बावजूद अपनी इच्छाशक्ति से कोरोना को हराने वालों की जांबाज कहानियां
  • पढ़िए आज दूसरी कड़ी- आठनेर ब्लॉक के जामठी गांव की बुजुर्ग का मंत्र- मन सबल तो जीत आसान और चिचोलीढाना के युवा दंपती ने स्वास्थ्य कर्मियों की अच्छी देखरेख से जीती जंग

हम उम्र से नहीं, मन से हारते हैं। यदि मन सबल हो तो जीत पाना कठिन नहीं है। यह कहना है आठनेर ब्लॉक के जामठी गांव की मिटको बाई का। जिन्हाेंने कोरोना को हराया। मिटको बाई पति उकंड्या नागले को बुखार, खांसी एवं सांस लेने में तकलीफ की शिकायत होने पर गंभीर अवस्था में कोविड केयर सेंटर में 23 अप्रैल को भर्ती किया था। ऑक्सीजन लेवल 50 था।

कोविड केयर सेंटर में भर्ती होने के पांच दिनों तक स्वास्थ्य एक जैसा रहा, उनके परिवार का कोई भी सदस्य भर्ती के समय साथ नहीं था। मिटको बाई को कोविड केयर सेंटर के स्टाफ ने नियत दवा के साथ ठीक होने का भरोसा दिया। 3 मई को इनका बुखार सामान्य एवं ऑक्सीजन लेवल 98 आ गया। दस दिनों में मिटको बाई को कोविड केयर सेंटर पर बीएमओ डॉ. ऋषि माहौर, डॉ. सुमित पटैया, डॉ. शरद जितपुरे, डॉ. विनोद साहू, डॉ. ओमप्रकाश झाड़े, डॉ. दीपक लहरपुरे, स्टाफ नर्स प्रीति राजपूत ने ताली बजाकर सम्मान किया।

भैंसदेही। युवा दंपती को कोविड सेंटर से डिस्चार्ज करते हुए।
भैंसदेही। युवा दंपती को कोविड सेंटर से डिस्चार्ज करते हुए।

युवा दंपती ने सकारात्मक सोच की डोर थामे रखी और कोरोना की जंग जीत ली

ब्लाॅक के ग्राम चिचोलीढाना में एक सप्ताह में सबसे अधिक दिनाें तक 10 पाजीटिव केस मिले। चिचोली ढाना पंचायत के ग्राम पारडी के युवा दंपती ने सकारात्मक सोच की डोर थामे रखी और कोरोना की जंग जीत ली। बीएमओ डॉक्टर अरुण अटल ने बताया ग्राम पारडी के 30 वर्षीय नितिन वानखेड़े और उनकी 28 साल की पत्नी रेणुका वानखेड़े की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर उन्हें 24 अप्रैल को कोविड-केयर सेंटर भैंसदेही में भर्ती किया। नितिन वानखेड़े ने बताया डॉक्टर चंद्रशेखर एवं स्टाफ नर्स ने घर के सदस्य की भांति देखभाल की। समय पर उपचार एवं दवाइयां स्टाफ ने दी। हम जल्द ही स्वस्थ हो गए। बीएमओ डॉक्टर अरुण अटल ने बताया स्वस्थ होने पर युवा दंपती को 3 मई को कोविड केयर सेंटर से डिस्चार्ज किया।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- दिन सामान्य ही व्यतीत होगा। कोई भी काम करने से पहले उसके बारे में गहराई से जानकारी अवश्य लें। मुश्किल समय में किसी प्रभावशाली व्यक्ति की सलाह तथा सहयोग भी मिलेगा। समाज सेवी संस्थाओं के प्रति ...

    और पढ़ें