मांग / श्रमिकों से आठ के बजाय 12 घंटे तक काम लेने वाले कानून का किया विरोध

Opposed to the law of workers who work for 12 hours instead of eight
X
Opposed to the law of workers who work for 12 hours instead of eight

  • विद्युत कर्मचारी फेडरेशन ने टिकारी उपकेंद्र पर किया विरोध प्रदर्शन

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 05:00 AM IST

बैतूल. श्रमिकाें से आठ घंटे के बदले 12 घंटे काम लेने के कानून सहित अन्य मांगों को लेकर शुक्रवार शाम 5.30 बजे विद्युत कर्मचारी फेडरेशन ने टिकारी उपकेंद्र पर विरोध प्रदर्शन किया। इंटक द्वारा श्रम कानून में श्रमिकों से 8 घंटे के बदले 12 घंटे काम लेने के कानून, विद्युत अधिनियम 2003 में संशोधन तथा राज्य सरकार द्वारा औद्योगिक संबद्ध अधिनियम 1960 विद्युत विभाग व अन्य विभागों से वापस लेने को लेकर विरोध जताया। 

जिला अध्यक्ष प्रकाश मांडवे ने बताया औद्योगिक अधिनियम समाप्त होने से श्रमिकों के शोषण के विरुद्ध कोई भी श्रमिक श्रम न्यायालय में वाद प्रस्तुत नहीं कर सकेगा। इसके लिए शासन की अनुमति लेनी होगी तथा उद्योगों में कोई प्रतिनिधित्व यूनियन भी नहीं होगा, जो अधिकार के साथ श्रमिक हित में आवाज उठा सकेगा। स्वतंत्र भारत में श्रमिक अभी भी गुलामी की जिंदगी जी रहे हैं। इंटक इस कानून का पुरजोर विरोध एवं निंदा करता है। विरोध करने वालों में गणपत बचले, आरपी सिंह, राजेश उमाले, सलामत खान, रेवाराम वराठे, केके कड़वे, प्रकाश बाथरी, चंद्रशेखर गुजराती आदि शामिल हैं।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना