पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

समर्थन मूल्य:खरीदी धीमी क्योंकि जिनकी उपज तैयार उनके बजाय खड़ी फसल वालों को भेज दिए एसएमएस

बैतूल4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • 6 दिन में 1% से भी कम किसानों का गेहूं खरीदा, 35 केंद्रों पर अब तक नहीं खरीदा एक भी दाना

गेहूं खरीदी केंद्रों पर किसानों की आवक न के बराबर रही। यह स्थिति इसलिए बनी क्योंकि जिनकी उपज बेचने के लिए तैयार है, उनके बजाय खड़ी फसल वाले किसानों को एसएमएस भेज दिए गए हैं। जिले के 92 केंद्रों में से 35 केंद्रों में अभी तक खरीदी शुरू नहीं हो सकी है। 57 केंद्रों पर 247 किसान ही उपज बेचने के लिए पहुंचे। अब तक 11 हजार 609 क्विंटल गेहूं की खरीदी हुई है, जबकि जिले में खरीदी का टारगेट 2 लाख मीट्रिक टन है।

खेड़ी के किसान वामन पोटे और खंडारा के रमेश सहाने की उपज तैयार है, उन्हें अब तक एसएमएस नहीं आया है। दोनों ने बताया कि उनके गांव में ऐसे किसानों को एसएमएस आ चुके हैं जिनकी फसल अभी खेतों में खड़ी है। जिले में 44 हजार 830 किसानों ने पंजीयन कराया है, आज तक 0.55 प्रतिशत किसानों ने उपज बेची। कोरोना महामारी में भी किसानों को उपज के सही दाम मिले इसलिए एक अप्रैल से जिले के 92 खरीदी केंद्रों में गेहूं की खरीदी शुरू की थी। पहले दिन केवल 16 किसान 840 क्विंटल गेहूं लेकर आए थे। इसके बाद लॉकडाउन के कारण खरीदी बंद रही।

20% बची है गेहूं की कटाई
जिले में 2 लाख 60 हजार हेक्टेयर में गेहूं की बुवाई हुई है। इसमें 80 प्रतिशत गेहूं की कटाई हाे चुकी है। अभी 20 प्रतिशत कटाई होना है। कुछ किसानों को गेहूं कटकर खलिहान में रखा है तो कहीं मजदूरों के नहीं मिलने के कारण किसान कटाई नहीं कर पा रहा है। समिति द्वारा छोटे किसानों को अधिक एसएमएस किए जा रहे है। इसके कारण खरीदी की रफ्तार धीमी है।
ससुंद्रा में दोपहर बाद पसरा सन्नाटा: आमला ब्लॉक के ससुंद्रा सहकारी समिति में दोपहर बाद सन्नाटा पसरा रहा। यहां मंगलवार को एक किसान से 10 क्विंटल ही खरीदी हुई है। पंजीयन 240 किसानों का है। बोरदेही में 6 किसानों से 70 क्विंटल 50 किलो खरीदी हुई है।

जिले में फसल की कटाई अधूरी
^जिले में 20 प्रतिशत फसल कटाई का काम नहीं हुआ है। किसानों को मजदूरों के नहीं मिलने की समस्या आ रही है। जिले में कई जगह लेट बुवाई होने के कारण कटाई नहीं हो सकी है।
रामवीर सिंह राजपूत, एसडीओ कृषि विभाग
^अभी 15 छोटे और 5 बड़े किसानों को एसएमएस किए जा रहे हैं। छोटे किसानों के पास रकबा कम होने के कारण खरीदी कम हो रही है। किसानों को सेकंड एसएमएस भेजा जाएगा इसके बाद गेहूं खरीदी की रफ्तार बढ़ेगी।
केके टेकाम, सहायक खाद्य व आपूर्ति अधिकारी बैतूल

जिले में यह रहे केंद्रों के हालत
पापुलर विपणन सोसायटी- बडोरा में गोडाउन में खरीदी कर रही पापुलर विपणन सोसायटी में चार किसानों ने ही उपज बेची। यहां बैतूल सहित आसपास गांव के 750 किसान पंजीकृत हैं। इनमें से चार किसानों से 297 क्विंटल खरीदी की गई है। मंगलवार को दो किसान उपज लेकर पहुंचे। कुछ किसान इस समिति से नाम कटवाकर पास के केंद्र में उपज बेचना चाहते हैं।
शाहपुर : तीन केंद्रों में 1500 क्विंटल खरीदा, भयावाड़ी में शून्य
शाहपुर ब्लॉक के तीन बड़े केंद्रों में अभी तक 1500 क्विंटल गेहूं खरीदा गया है। शाहपुर केंद्र में 800, भौंरा में 350 तथा बीजादेही में 350 क्विंटल खरीदी की गई है। भयावाड़ी केंद्र पर पहली बार स्व सहायता समूह द्वारा खरीददारी की जा रही है, वहां पर अभी तक किसान ही नहीं पहुंचे। शाहपुर ब्लॉक पंजीकृत 3450 किसान हैं। इनमें से 50 किसानों से खरीदी हो रही हैं। यहां पर छोटे किसानों का एसएमएस किए जा रहे हैं। इसीलिए यहां पर कम संख्या में किसान पहुंच रहे है।
रानीपुर: 650 में से पहुंचे 19 किसान
घोड़ाडोंगरी ब्लॉक में रानीपुर सहकारी समिति जहां पर केंद्र में किसानों की कतारें लगी रहती थी, उस केंद्र में अभी तक केवल 19 किसानों से 1 हजार क्विंटल की खरीदी की गई है। इस केंद्र में 650 किसानों का रजिस्ट्रेशन है। रोजाना 20 किसानों को एसएमएस किए जा रहे है, लेकिन इक्का-दुक्का किसान ही पहुंच रहे है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आप अपने काम को नया रूप देने के लिए ज्यादा रचनात्मक तरीके अपनाएंगे। इस समय शारीरिक रूप से भी स्वयं को बिल्कुल तंदुरुस्त महसूस करेंगे। अपने प्रियजनों की मुश्किल समय में उनकी मदद करना आपको सुखकर...

    और पढ़ें