पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नए स्ट्रेन का असर:नहीं लगेगा सालबर्डी का मेला, भंडारों पर रोक, भोपाली मेले का निर्णय टला

बैतूल12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • महाराष्ट्र में संक्रमण बढ़ता देख जिला क्राइसिस मैनेजमेंट की बैठक में लिया निर्णय

कोरोना के नए स्ट्रेन के कारण महाराष्ट्र में बढ़ रहे मरीजों और जिले में बढ़ते खतरे को देखते हुए पहली बार महाशिवरात्रि पर सालबर्डी में लगने वाला मेला स्थगित कर दिया है। त्योहारों पर जगह-जगह होने वाले भंडारे के आयोजन पर भी रोक लगा दी है। वहीं रानीपुर के पास भोपाली में लगने वाले महादेव मेले काे लेकर प्रशासन ने अभी कोई निर्णय नहीं लिया है। भाेपाली मेले में महाराष्ट्र के लाेग कम आते हैं इस कारण फिलहाल मेले को स्थगित नहीं किया है। आगामी समय में कोरोना मरीजों काे देखकर निर्णय लिया जाएगा।

महाराष्ट्र से आने वाले डॉक्टर भी जिले में अनधिकृत रूप से क्लीनिक संचालित नहीं कर सकेंगे। वहीं जिले के प्राइवेट डॉक्टर मरीज को महाराष्ट्र की जगह भोपाल रेफर करेंगे। यह निर्णय मंगलवार शाम को कलेक्ट्रेट कार्यालय में हुई जिला क्राइसिस मैनेजमेंट की बैठक में लिए गए। सालबर्डी मेला प्रदेश और महाराष्ट्र की सीमा पर लगता है। मेले में 90 प्रतिशत श्रद्धालु महाराष्ट्र से आते हैं। मेले में काेराेना संक्रमण फैलने का खतरा देखते हुए क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी ने मेला स्थगित किया है।

बैन : मरीजों को महाराष्ट्र नहीं ले जाएंगी एंबुलेंस

  • चिकित्सक मरीजों को महाराष्ट्र के अस्पताल में उपचार के लिए ना करें प्रेरित।
  • निजी डॉक्टर मरीजों को महाराष्ट्र की जगह भोपाल के अस्पताल में करें रेफर।
  • बैतूल से एंबुलेंस संचालकों द्वारा मरीजों को महाराष्ट्र के शहर ले जाने पर रोक।
  • दवाईयों की दुकानों पर महाराष्ट्र के डॉक्टरों के अनधिकृत रुप से बोर्ड लगाने पर रोक।

एहतियात : कोविड प्रोटोकॉल का करना होगा पालन

  • जिले के शिक्षण संस्थानों में कोविड प्रोटोकॉल का पालन किया जाए। इसके लिए संस्थाओं की बैठक बुलाई जाएगी।
  • महाराष्ट्र से जिले में लौटने वाले छात्र-छात्राओं को किया जाएगा आइसोलेट, रखी जाएगी निगरानी।
  • नगर की सड़काें पर बेतरतीब लग रहे बाजारों को भी सुव्यवस्थित लगवाया जाएगा।
  • बाजारों में कोविड प्रोटोकाल का पालन करवाने के लिए अभियान चलेगा।

निर्णय : क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी ने लगाई रोक
कलेक्ट्रेट कार्यालय में शाम 5 बजे कलेक्टर अमनवीर सिंह बैस की अध्यक्षता में जिला क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी की बैठक आयोजित की। बैठक में कोरोना के नए स्ट्रेन के संक्रमण के खतरे को देखते हुए महाराष्ट्र के सीमावर्ती सालबर्डी में आयोजित किया जाने वाला मेला रद्द करने का निर्णय लिया। बैठक में पूर्व विधायक हेमंत खंडेलवाल, मोहन नागर, अरूण गोठी, रेडक्रॉस सोसाइटी के चेयरमैन डॉ. अरुण जयसिंग सहित अधिकारी मौजूद थे।

काेराेना केस बढ़ने पर भाेपाली मेला भी स्थगित किया जा सकता है

मुझे बताया गया कि भोपाली मेले के अंदर महाराष्ट्र के लोगों का मूवमेंट कम होता है। इसीलिए फिलहाल मेले को स्थगित नहीं किया है। कोरोना के केसेस की संख्या बढ़ने पर भोपाली मेले को भी स्थगित करने का निर्णय लिया जा सकता है।
- अमनवीर सिंह बैस, कलेक्टर बैतूल

इधर... बार्डर पर यह रहे हालात

दो जगह खोली चौकी, खोमई से महाराष्ट्र से आने वाली बसों की आवाजाही की बंद
भैंसदेही| महाराष्ट्र सीमा पर खोमई पर प्रशासन द्वारा जांच चौकी खोली है। लेकिन दूसरी सीमा कुकरु- खामला क्षेत्र से भी बड़ी संख्या में लोगों की महाराष्ट्र से आवाजाही करते हैं। यहां पर लहास में जांच चौकी खोलना जरूरी है। इधर खोमई में मंगलवार को बसों की आवाजाही बंद रही। जांच अधिकारी बीआर नरवरे इस मार्ग से कम संख्या में वाहन आए। इस मार्ग से बिना मास्क के तीन बाइक चालकों पर 600 रुपए चालानी कार्रवाई की।

गौनापुर चौकी पर महाराष्ट्र से आने वालाें काे रोकने के लिए 24 घंटे टीम तैनात
मुलताई| गौनापुर चौकी पर महाराष्ट्र से आने वाले वाहनों को रोकने के लिए मार्ग पर बेरिकेड्स लगाए हैं। महाराष्ट्र से आने वाले प्रत्येक यात्री की थर्मल स्क्रीनिंग की जा रही है। पिछले तीन दिनों में गौनापुर चौकी से 137 लोगों ने महाराष्ट्र से मप्र की सीमा में प्रवेश किया। नागपुर की ओर आने वाले वाहनों को खंबारा टोल प्लाजा पर रोककर जांच की जा रही है। अब फास्टैग वाहनों को रोकने के लिए अब पुलिस की ड्यूटी लगाई है। खंबारा टोल प्लाजा पर तीन दिनों में 98 लोगों की जांच की।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आप बहुत ही शांतिपूर्ण तरीके से अपने काम संपन्न करने में सक्षम रहेंगे। सभी का सहयोग रहेगा। सरकारी कार्यों में सफलता मिलेगी। घर के बड़े बुजुर्गों का मार्गदर्शन आपके लिए सुकून दायक रहेगा। न...

    और पढ़ें