पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

अन्नदाता परेशान:सर्वर डाउन; 21% किसान नहीं करा सके पंजीयन, तीन दिन ही हैं बांकी, केवल 29363 किसानों ने कराया रजिस्ट्रेशन

बैतूल7 दिन पहलेलेखक: आदित्य तिवारी
  • कॉपी लिंक
फाइल फोटो। - Dainik Bhaskar
फाइल फोटो।
  • आमला, शाहपुर सहित अन्य जगह बिना पंजीयन केंद्रों से लौटे किसान
  • जिले में 79 प्रतिशत किसानों के हो चुके हैं फसल बेचने पंजीयन

जिले में समर्थन मूल्य पर होने वाली खरीदी के लिए पंजीयन का काम सर्वर डाउन होने से धीमा चल रहा है। सोमवार को भी पंजीयन केंद्रों पर पंजीयन कराने पहुंचे किसान परेशान हुए। अधिकांश समितियों में किसान पंजीयन कराने पहुंचे, लेकिन सर्वर डाउन होने के कारण वापस लौटना पड़ा। शासन द्वारा पंजीयन के लिए अंतिम तिथि 25 फरवरी रखी है।

तीन दिनों में 21 प्रतिशत किसानों का पंजीयन किया जाना है। यदि इस बीच सर्वर डाउन रहा तो सैकड़ों किसान पंजीयन से वंचित रह जाएंगे। जिले में सोमवार शाम तक 29363 किसानों का पंजीयन हो चुका है, जबकि 7 हजार से अधिक किसानों का पंजीयन नहीं हो सका। सहकारी समिति कर्मचारियों की हड़ताल के कारण पहले पंजीयन कार्य की गति नहीं बढ़ी थी। सहकारी कर्मचारियों की हड़ताल खत्म होने के बाद सर्वर की परेशानी आ रही है। जिले में पंजीयन के लिए 79 केंद्र बनाए गए है।

इन केंद्रों पर सुबह से शाम तक किसान पंजीयन के लिए पहुंचते है, लेकिन सर्वर डाउन होने के कारण एक या दो किसानों के ही पंजीयन हो रहे है। जिले के आमला, शाहपुर, भैंसदेही, आठनेर सहित अन्य जगहों पर पंजीयन केंद्रों पर किसान परेशान हुए।

सोमवार को भी सर्वर डाउन होने की परेशानी के कारण कम संख्या में किसानों के पंजीयन हुए। जिले में खाद्य विभाग के अनुसार गेहूं, चना, मसूर, के लिए लगभग 37 हजार किसानों के पंजीयन होने का अनुमान रखा गया है। इनमें से 29 हजार 363 किसानों के पंजीयन सोमवार तक हुए हैं। पंजीयन की अंतिम तिथि 25 फरवरी है। तीन दिनों में 7637 किसानों के पंजीयन होना है। यदि सर्वर के यही हालात रहे तो तीन दिनों में इतने किसानों का पंजीयन कैसे होगा।

आमला में एक केंद्र पर 1 से 2 किसानों के ही हो पाए उपज बेचने पंजीयन

आमला ब्लॉक में बनाए पंजीयन केंद्रों पर सोमवार को सर्वर डाउन होने की परेशानी रही। एक केंद्र पर बमुश्किल 1 या 2 किसानों के पंजीयन हो सके। दूसरी ओर कियोस्क सेंटर, मोबाइल एप पर भी किसानों के आधार लिंग नहीं होने से पंजीयन नहीं हो रहे है।

कृषक रविकांत उघड़े ने बताया पंजीयन नहीं होने से किसान परेशान है। पहले सहकारी संस्थाओं के कर्मचारियों की हड़ताल अब सर्वर की समस्या से पंजीयन नही हो पा रहे है। ब्लॉक के बोरदेही, खेड़लीबाजार, रतेड़ा, नरेरा, जंबाड़ा सहित अन्य केंद्रों पर किसान सर्वर की समस्या से परेशान रहे।

दिन में स्लो चला सर्वर, रात में किए जा रहे किसानों के रजिस्ट्रेशन

शाहपुर क्षेत्र में भी बीजादेही, भौंरा और शाहपुर केंद्रों पर सर्वर की समस्या से किसानों के पंजीयन नहीं हो सके। बीजादेही में एक दिन में 2 से 3 किसानों के पंजीयन हुए, जबकि भौंरा में 12 तथा शाहपुर में 25 किसानों के पंजीयन कार्य हो चुके हैं। इन केंद्रों पर सर्वर चल नहीं पा रहा था। इस कारण कई किसानों को बिना पंजीयन के लौटना पड़ा। केंद्रों के कर्मचारियों का कहना है दिन मे सर्वर नहीं चलने के कारण रात में पंजीयन करना पड़ता है।

सर्वर के कारण समस्या

सर्वर डाउन रहने की समस्या आ रही है । ओवरलोड होने के कारण सर्वर धीमा चल रहा है। हालांकि जिले में 79 प्रतिशत किसानों के पंजीयन हो चुके है। समस्या दूर होते ही शत-प्रतिशत पंजीयन हो जाएंगे।
- एके कुजुर, जिला खाद्य व आपूर्ति अधिकारी बैतूल

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थितियां पूर्णतः अनुकूल है। सम्मानजनक स्थितियां बनेंगी। विद्यार्थियों को कैरियर संबंधी किसी समस्या का समाधान मिलने से उत्साह में वृद्धि होगी। आप अपनी किसी कमजोरी पर भी विजय हासिल...

    और पढ़ें