पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

परेशानी:डाटा गलत हाे रहा था फीड इसीलिए बैतूल, शाहपुर व आठनेर में आधार कार्ड बनना बंद

बैतूल16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
बैतूल। केंद्र पर आधार कार्ड नहीं बनने की इस तरह चस्पा मिली सूचना। - Dainik Bhaskar
बैतूल। केंद्र पर आधार कार्ड नहीं बनने की इस तरह चस्पा मिली सूचना।
  • केन्द्रों के बाहर चस्पा हुई आधार नहीं बनने की सूचना, बैतूल में पाेस्ट ऑफिस में भी नहीं बनाया जा रहा

बैतूल| लोगों के आधार कार्ड बनाने के दौरान अधिक त्रुटियां होने के कारण बैतूल, आठनेर और शाहपुर के आधार केन्द्रों की आईडी बंद हो गई है। इस कारण इन तीनों जगहों पर आधार कार्ड बनने बंद हो गए हैं। अब यहां नई आईडी बनाने और रजिस्टर्ड करवाने की कवायद शुरू हो गई है। इसके बाद ही इन तीनों जगह पर दोबारा आधार कार्ड बनने शुरू हो सकेंगे। इन केन्द्रों पर आधार नहीं बनने की सूचना चस्पा होने के बाद लोग परेशान हो रहे हैं।

बैतूल में पुराने कलेक्टोरेट के आधार कार्ड केन्द्र पर परेशान मिले लोग
बैतूल में पुराने कलेक्टोरेट भवन के आधार केन्द्र पर बुधवार काे सूचना चस्पा थी कि यहां आधार बनाने बंद कर दिए हैं। यहां बड़ी संख्या में लोग आधार बनवाने पहुंच रहे थे। लेकिन सूचना चस्पा देखकर उन्हें निराशा ही हाथ लगी। अधिकांश लोग बच्चों के आधार बनवाने आए थे। टिकारी निवासी मनोज नागवंशी ने बताया उन्हें बेटी का आधार बनवाना है, लेकिन यहां आधार बनना बंद है। इसी तरह हमलापुर निवासी राकेश राजाेरिया ने बताया उन्हें अपने बेटे और भतीजी दोनों के आधार बनवाने हैं। लेकिन यहां आधार बनाने का काम बंद है।
आईडी व रजिस्ट्रेशन करवाना जरूरी
जब तक बैतूल, शाहपुर और आठनेर के आधार केन्द्रों के लिए दोबारा नए सिरे से आईडी नहीं बन जाती और इसे रजिस्टर्ड नहीं कर दिया जाता, तब तक यहां आधार बनने शुरू नहीं हो सकते। इनमें से केवल शाहपुर की आईडी बनाने की प्रक्रिया ही हुई है। लेकिन शाहपुर में भी रजिस्टर्ड अब तक नहीं की है। इस कारण वहां भी काम जल्द शुरू होने के आसार नहीं हैं।

लगातार गलतियाें से लाॅक हुई आईडी
अभी मुलताई, चिचोली, घोड़ाडोंगरी में आधार कार्ड बनाए जा रहे हैं। बैतूल, शाहपुर और आठनेर में आधार बनाने में लगातार गलतियां होने से आईडी लॉक हो गई। अब नए सिरे से नए नाम से आईडी बनाकर इसे रजिस्टर्ड करवाना होगा।
इन कारण से लाॅक हाेती है आईडी
आधार कार्ड का डाटा लगातार गलत फीड करने की लगातार त्रुटियां होने के कारण आईडी लॉक हो जाती है। मोबाइल नंबर, नाम, पता गलत लिखने जैसी त्रुटियां लगातार होने पर आईडी लॉक हो जाती है।

5 प्रतिशत लोगों के नहीं बने हैं आधार
जिले में अब तक 95 प्रतिशत लोगों के ही आधार कार्ड बने हैं। आधार कार्ड बनते जा रहे हैं लेकिन, बच्चों की संख्या लगातार बढ़ रही है। इस कारण हमेशा ही बड़ी संख्या में ऐसे बच्चे बच जाते हैं, जिनके आधार कार्ड नही बने हैं।
नई आईडी बनाने की प्रक्रिया जारी
सात में से तीन जगहों बैतूल, शाहपुर और आठनेर में आधार बनाने का काम बंद है। नई आईडी बनाने की प्रक्रिया चल रही है। नई आईडी बनाकर इन्हें रजिस्टर्ड किया जाएगा।
मनीष वरबड़े, प्रबंधक, लोक सेवा प्रबंधन विभाग

आधार कार्ड बनाने पोस्ट ऑफिस में काउंटर पर नहीं कर्मचारी
कलेक्टोरेट के आधार केन्द्र के समीप ही मुख्य पोस्ट ऑफिस है। लेकिन यहां भी आधार काउंटर पर कर्मचारी तैनात नहीं था। बुधवार दोपहर कलेक्टोरेट में परेशान होने के बाद पोस्ट ऑफिस पहुंचे लोगों को यहां भी निराश होना पड़ा। राकेश राजाेरिया ने बताया पोस्ट ऑफिस में आधार काउंटर पर कोई था ही नहीं। भास्कर ने जब मामले की पड़ताल की तो पोस्ट ऑफिस में आधार काउंटर की कुर्सी बुधवार काे दिनभर खाली पड़ी रही।

जब अगल-बगल के काउंटर पर पूछा कि आधार कौन बनाएगा तो उन्होंने जवाब दिया हमें नहीं मालूम। मुख्य डाकघर प्रबंधक आरके तिवारी ने बताया आधार का काम लगातार नहीं किया जा रहा है। दरअसल पिछले कुछ समय से कम लोग आ रहे थे इसीलिए एक कर्मचारी इसके लिए नियुक्त रखना हमने ठीक नहीं समझा। बगल की सीट वाला कर्मचारी को ही इसकी जिम्मेदारी दे दी है।

खबरें और भी हैं...