पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

काेराेना की लहर:पीजी कॉलेज में चार प्रोफेसर समेत 6 पॉजिटिव, छात्रों को रोका, गेट पर लिए छात्रवृत्ति के अावेदन

हरदाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • एनएसयूआई ने स्थिति सुधरने तक काॅलेज बंद करने की रखी मांग

स्वामी विवेकानंद कला एवं वाणिज्य पीजी काॅलेज स्थाई प्राचार्य नहीं हाेने के कारण भगवान भराेसे चल रहा है। काेराेना की बिगड़ती स्थिति के बाद भी प्रबंधन ने एहतियात के काेई इंतजाम नहीं किए। इसका नतीजा यह हुआ कि काॅलेज में परीक्षा फार्म, स्कॉलरशिप व आवास याेजना के आवेदन जमा करने 4-5 दिनाें से उमड़ रही भीड़ के बीच तीन दिन में स्टाफ के 6 लाेग संक्रमित निकल गए। इनमें 4 महिला सहायक प्राध्यापक हैं।

मंगलवार काे जानकारी लगते ही स्टाफ के दूसरे लाेग सकते में आ गए। सुबह की दाे पारियों के करीब 15 लाेग गेट के बाहर खड़े रहे और बाद में वापस लाैट गए। एनएसयूआई ने स्थिति सुधरने तक काॅलेज बंद करने की मांग की। छात्र-छात्राओं से घर में रहने का आग्रह किया। इधर बिगड़ती स्थिति देख काॅलेज प्रबंधन ने गेट के बाहर से ही सभी तरह के आवेदन लिए।

स्थिति बिगड़ी, गेट से इंतजार कर लाैटा स्टाफ

अभाविप ने प्राचार्य को ठहराया दोषी
एनएसयूआई के अध्यक्ष याेगेश चाैहान ने काॅलेज के 6 सहायक प्राध्यापकों के काेराेना संक्रमित हाेने के मामले में प्रभारी प्राचार्य प्रभा साेनी काे जिम्मेदार ठहराते हुए कुछ दिनाें के लिए काॅलेज बंद करने की मांग की। उन्होंने कहा कि संगठन पहले से ही प्रबंधन काे लगातार आगाह कर रहा है, लेकिन काॅलेज कैंपस सैनिटाइज नहीं कराया गया। मास्क की अनिवार्यता का पालन नहीं कराया। इस कारण भीड़ के कारण संक्रमण बढ़ा। 6 लाेग संक्रमित हुए। अभी 3 लाेगाें की रिपोर्ट आना शेष है।
वेतन कटने के डर से पहुंचे कर्मचारी
पीजी काॅलेज में कॉमर्स की कक्षाएं सुबह 8.30 से लगती हैं। इसका स्टाफ 11.30 बजे बाहर से लाैट गया। प्रभारी प्राचार्य के आने व अफसराें से बातचीत व एनएसयूआई के हंगामे के बाद सैनिटाइज कराया। चतुर्थ श्रेणी के छाेटे कर्मचारी वेतन कटने व नाेटिस मिलने के डर से समय पर काॅलेज जा पहुंचे। लेकिन कई कर्मचारी काॅलेज गेट के बाहर ही घंटाें खड़े रहे। इस कारण काॅलेज का काम प्रभावित हुआ।

शासन ने कहा काॅलेज बंद नहीं कर सकते, सैनिटाइज कराया है
^उच्च शिक्षा विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों व कलेक्टर काे सारी स्थिति से अवगत कराया। प्रशासन ने कहा कि काॅलेज बंद नहीं कर सकते हैं, सैनिटाइज कराया। छात्र-छात्राओं के हाथ सैनिटाइज कराने की व्यवस्था की। स्टाफ से कहा कि यदि किसी काे बीमारी के लक्षण दिख रहें हाे ताे वे वाॅटसएप पर भी एप्लीकेशन देकर अपनी जांच प्राथमिकता से करा सकते हैं।
-प्रभा साेनी, प्रभारी प्राचार्य, शाॅ. कालेज, हरदा

दाे दिन में 11 नए मरीज मिले, मार्च में संक्रमण दर 1.54%
जिले में दाे दिन में 11 नए मरीज मिले। मार्च में अब तक 86 मरीज मिल चुके हैं। इस माह में संक्रमण दर 1.54 प्रतिशत है। फरवरी में संक्रमण दर 0.54 प्रतिशत थी। रिकवरी रेट 96.67 प्रतिशत है। जानकारी के मुताबिक फरवरी में 6212 मरीजों के सैंपल लिए। इनमें से 34 पॉजिटिव आए। यानी संक्रमण दर 0.54 प्रतिशत रही। मार्च में अब तक 5582 लाेगाें के सैंपल की जांच हुई। इनमें से 86 कराेना के मरीज मिल चुके हैं।

संक्रमण दर 1.54 प्रतिशत पर पहुंच गई है। सीएमएचओ डाॅ. सुधीर जेसानी ने बताया कि 65 सैंपल की रिपोर्ट आई, 4 पॉजिटिव आए। इनमें टिमरनी के वार्ड 3 का 21 वर्षीय पुरुष, हरदा का खेड़ीपुरा वार्ड 6 का 24 वर्षीय पुरुष, मदीना काॅलोनी का 44 वर्षीय पुरुष तथा महाराणा प्रताप काॅलोनी की 44 वर्षीय महिला शामिल है। अब तक 65030 में से 64209 सैंपल की रिपोर्ट आ चुकी है। 821 सैंपल की रिपोर्ट आना बाकी है। फीवर क्लीनिक में 118 मरीजों का स्वास्थ्य परीक्षण किया।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- वर्तमान परिस्थितियों को समझते हुए भविष्य संबंधी योजनाओं पर कुछ विचार विमर्श करेंगे। तथा परिवार में चल रही अव्यवस्था को भी दूर करने के लिए कुछ महत्वपूर्ण नियम बनाएंगे और आप काफी हद तक इन कार्य...

    और पढ़ें