शुरू हुआ सफर / पहली ट्रेन से 9 यात्री आए, 5 गए; सूरत से परिवार सहित लाैटे दाे भाई बोले- गांव में ही मजदूरी करेंगे

9 passengers came from the first train, 5 went; Latte da bhai with family from Surat said - will work in the village
X
9 passengers came from the first train, 5 went; Latte da bhai with family from Surat said - will work in the village

  • ट्रेन पर परिजन लेने पहुंचे, यात्रियाें के नाम, माेबाइल नंबर, पता नाेट किया, सैनिटाइजर से धुलवाए हाथ
  • 68 दिन बाद आई पहली ट्रेन : सही वक्त पर 7 बजे स्थानीय स्टेशन पहुंची ताप्ती गंगा एक्सप्रेस

दैनिक भास्कर

Jun 02, 2020, 05:00 AM IST

हरदा. लाॅकडाउन की वजह से 68 दिन बाद साेमवार शाम हरदा स्टेशन पर पहुंचने वाली पहली ट्रेन ताप्ती गंगा एक्सप्रेस रही। ट्रेन राइट टाइम पर स्टेशन पहुंची। इस दाैरान ट्रेन से 5 यात्री रवाना हुए औैर 9 यात्री अाए। स्टेशन पर उतरने वाले यात्रियाें के दल में शामिल सीहाेर जिले के रेहटी तहसील के तजपुरा निवासी दाे भाई, एक बहन औैर मां के साथ सूरत में फंस गए थे। दाेनाें भाई निजी कंपनी में पिज्जा डिलेवरी का काम करते थे। लाॅकडाउन में उन्हाेंने खासी मुश्किलाें में दिन गुजारे। अब उन्हाेंने वापस जाने से ताैबा कर ली है। उनका कहना है कि गांव में ही मेहनत, मजदूरी कर पेट भर लेंगे, लेकिन अब वापस नहीं जाएंगे। इसी तरह ट्रेन से रवाना हाेने वालाें में सिराली तहसील के रामपुर का एक युवक शामिल है। लाॅकडाउन में फंसा यह युवक भी ट्रेन से अपने घर जबलपुर रवाना हुआ।
जानकारी के मुताबिक ताप्ती गंगा एक्सप्रेस अपने निर्धारित समय 7 बजे स्टेशन पर पहुंची। यात्रियाें काे लेने के लिए उनके परिजन भी स्टेशन पहुंचे। परिजनाें से मिलकर उनकी खुशी का ठिकाना नहीं रहा। हालांकि, साेशल डिस्टेंसिंग की वजह से परिजन अपनाें काे गले नहीं लगा सके। पुलिस व प्रशासन के अधिकारियाें ने उन्हें साेशल डिस्टेंसिंग का पालन करने की पहले ही समझाइश दे रखी थी। इस दाैरान एसडीएम एसएच चाैधरी, तहसीलदार विंकी सिंहमारे, नायब तहसीलदार महेंद्रसिंह चाैहान, थाना प्रभारी उमेदसिंह, आरपीएफ, जीाआरपी सहित अन्य माैजूद थे। 

आने - जाने वालाें के नाम, नंबर व पते किए नाेट  
ताप्ती गंगा एक्सप्रेस से जाने वालाें में मात्र 5 यात्री शामिल थे। इसी तरह आने वालाें में 9 यात्री शामिल रहे। स्टेशन के मुख्य गेट के सामने वाले हाॅल में लगे टेबल पर बेरिकेड लगाकर टेबल लगाए गए। इनमें अाने-जाने वाले यात्रियाें के अलग-अलग नाम, पता व नंबर नाेट किए। इसी के साथ यात्रियाें की थर्मल स्क्रीनिंग की। इसके बाद ही यात्रियाें काे स्टेशन पर प्रवेश मिला।

भगवान का शुक्र है अब घर पहुंच जाऊंगा 
लाॅकडाउन की वजह रामपुर में फंसे मजदूर संजय अजबसिंग ने कहा कि वह अब कभी घर नहीं छाेड़ेगा। मजदूरी के लिए आए संजय का परिवार लाॅकडाउन के कुछ दिन पहले ही घर रवाना हाे गया, लेकिन वह यहीं फंस गया। हालांकि, गांव में उसे मजदूरी मिलती रही। इस कारण उसे अधिक समस्या नहीं अाई, लेकिन परिवार से दूर रहकर उसका एक-एक दिन बड़ी मुश्किल से गुजरा।

इधर, खिरकिया से एक भी यात्री कामायनी एक्स. में नहीं बैठा
खिरकिया| रेलवे स्टेशन पर 69 दिन बाद  पहली ट्रेन के रूप में कामायनी एक्सप्रेस सोमवार रात 10:45 पर आने थी लेकिन ट्रेन 2 घंटे लेट हो गईl स्टेशन पर तहसीलदार अलका एक्का, स्टेशन प्रंबधक  आरएन सिंह, आयुष चिकित्सक डॉ योगेश अग्रवाल,  रेलवे चौकी प्रभारी शेख मकसूद, इटारसी से टिकट कलेक्टर राजेश धार्मिक, हरदा से टिकट कलेक्टर विक्रांत ढोके एवं सुरक्षा मे तैनात करीब 25 कर्मचारियों की टीम मौजूद थी।

खाने के पड़े लाले, अब वापस नहीं जाऊंगा, अंतिम एक सप्ताह भगवान का नाम लेकर गुजारा 
गुजरात के सूरत से महेश पिता रमेश (24), उसका छाेटा भाई धीरज (20), बहन हिना (14) औैर मां कुसुम ताप्ती गंगा एक्सप्रेस से हरदा पहुंचे। वे सीहाेर जिले के रेहटी के तजपुरा के रहने वाले हैं। दाेनाें भाई निजी कंपनी में पिज्जा डिलेवरी का काम करते थे। लाॅकडाउन में काम छूट गया ताे परिवार का पेट पालना मुश्किल हाे गया। खाने के भी लाले पड़ गए। जमा रुपए भी खर्च हाे गए। महेश के मुताबिक अंतिम एक सप्ताह ताे भगवान का नाम लेकर गुजारा। हरदा पहुंचने पर रेलवे स्टेशन पर उनके पिता रमेश भाई अपने एक साथी के साथ बाइक से लेने पहुंचे। बच्चाें काे देखकर उनकी भी खुशी का ठिकाना नहीं रहा। महेश के मुताबिक अब वह कभी सूरत नहीं जाएगा। गांव में ही मेहनत, मजदूरी कर अपना व परिवार का पेट पालेगा।

बाहर से हरदा लौटे लोगों को क्वारेंटाइन रहने को कहा है 
 ताप्ती गंगा एक्सप्रेस से 5 यात्री रवाना हुए औैर 9 यात्री आए हैं। उनके नाम, नंबर व पता नाेट किया है। यात्रियाें काे साेशल डिस्टेंसिंग का पालन करने व क्वारेंटाइन रहने की समझाइश दी है।
- एचएस चाैधरी, एसडीएम, हरदा 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना