पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पर्युषण पर्व:बच्चों ने तीर्थों के बताए नाम, महिलाओं ने मूंगफली छीलकर जीते इनाम

हरदा4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
हरदा। नाटक का मंचन करते हुए कलाकार। - Dainik Bhaskar
हरदा। नाटक का मंचन करते हुए कलाकार।
  • विद्या सागर भवन में चल रहीं धार्मिक और सांस्कृतिक प्रतियाेगिताएं

श्री दिगंबर जैन समाज के पर्युषण पर्व के दाैरान विद्यासागर भवन में राेजाना रात काे धार्मिक व सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं। इसी के तहत एक मिनट शाे और सब खेलाे सब जीतो प्रतियोगिता में बच्चों और युवाओं ने हिस्सा लिया। तीर्थों के नाम बताकर बच्चों और युवाओं ने इनाम जीते। एक मिनट में अधिक से अधिक मूंगफली छीलकर महिलाओं ने पुरस्कार हासिल किए।

पर्युषण पर्व के दाैरान मंदिर में राेजाना धार्मिक कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं। शाम काे सांस्कृतिक प्रतियोगिताएं हाे रही हैं। 1 मिनट शो और सब खेलो सब जीतो प्रतियोगिता में 50 से अधिक महिला पुरुष एवं बच्चों ने हिस्सा लिया। इसमें उन्होंने एक मिनट में सवालों के जवाब दिए।

मेमोरी टेस्ट भारत के विभिन्न प्रदेशों की राजधानियों के नाम पूछे गए। रस्सी में गठानें लगाना, अधिक से अधिक मूंगफली छीलकर दाने निकलने, ताश के विभिन्न प्रकार के खेल, नींबू रेस, दस धर्मों के नाम, तीर्थ क्षेत्रों के नाम पूछे गए। विजेताओं काे पुरस्कार प्रदान किए।

धर्म प्रतिज्ञा पर दृढ़ रहने वाले की रक्षा स्वयं करते हैं देवता

धर्म प्रतिज्ञा पर दृढ़ रहने वालों की मदद और रक्षा स्वयं देवता करते हैं। धर्म की राह पर चलने वालाें के सामने कई अड़चनें आती हैं, लेकिन समाधान भी साथ आता है। अड़चनें व्यक्ति काे दृढ़ बनाते हैं। श्री दिगंबर जैन समाज द्वारा चल रहे पर्युषण पर्व के तीसरे दिन लघु नाटिका मनाेवति गजमाेती में कलाकाराें ने यही संदेश दिया। समाज के युवा समर्थ जैन के डायरेक्शन में समाज के युवक, युवतियों और बच्चों ने लघु नाटिका का मंचन किया।

समाज के अध्यक्ष सुरेन्द्र जैन ने बताया कि मनोवति-गजमोती नाटक एक सत्य घटना पर आधारित है। लघु नाटिका हमें संदेश देती है कि धर्म पर दृढ़ रहने वालों की मदद स्वयं भगवान आकर करते हैं। इस माैके पर बालिका जैनसी जैन ने कथक नृत्य की प्रस्तुति दी। इस दाैरान समाज के लाेग माैजूद थे।

खबरें और भी हैं...