पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

विराेध:चार घंटे चक्काजाम के बाद 5 दिन से चल रहा किसानों का धरना खत्म

हरदाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • संयुक्त किसान माेर्चा के चक्काजाम में कांग्रेसी भी हुए शामिल

संयुक्त किसान माेर्चा द्वारा तीन कृषि कानून के विरोध में चल रहे प्रदर्शन में शनिवार काे हाइवे पर लगभग चार घंटे चक्काजाम किया गया। आंदाेलन के 5वें दिन कांग्रेस के पूर्व विधायक आरके दाेगने, पूर्व नपाध्यक्ष हेमंत टाले, गाेविंद व्यास, सुष्मिता चाैहान आदि शामिल हुए।

इस बीच संयुक्त माेर्चा के एक दाे लाेगाें ने कांग्रेस पर आंदाेलन कैप्चर करने का आराेप लगाया। इससे नाराज दाेगने बाेले, हम किसान के रूप में समर्थन देने बैठे हैं। आपकाे एतराज हाे ताे हम दूसरी जगह बैठकर विरोध कर लेंगे। मामला तूल पकड़ा ताे कुछ लाेगाें की समझाइश से शांत हुआ।

इसके बाद भाकिसं के सुरेश गुर्जर ने एक न्यायाधीश द्वारा खेती काे लेकर लिखे आलेख के अंश पढ़े। इससे भी कुछ किसान नाराज हुए। इस कारण अधबीच से ही चले गए। शनिवार काे धरना खत्म हाे गया। अब किसान दिल्ली जाएंगे। चक्काजाम के दाैरान पुुलिस ने वैकल्पिक रास्ताें से छाेटे वाहन निकलवाए।

कल तक चाय बेचने वाला आज देश बेच रहा है : मेधा पाटकर
देश का इससे बड़ा दुर्भाग्य और क्या हाेगा कि देश की जनता से जिसे सिर आंखाें पर बैठाया, वही कल तक चाय बेचने वाला आज नए कृषि कानून के सहारा लेकर गरीबाें के मुंह का निवाला छीन रहा है। जनता की चुनी सरकार पूंजीपतियों का कर्ज माफ कर, उन्हें सस्ती जमीन देकर कांट्रेक्ट फार्मिंग के जरिए किसानों काे गुलाम बनाना चाहती है। नई नीति से देश व समाज में गैर बराबरी बढ़ रही है। यह बात नर्मदा बचाओ आंदाेलन की प्रमुख मेधा पाटकर ने कही।

वे कृषि कानून वापस लेने की मांग काे लेकर 5 दिन से हाइवे किनारे बेमियादी धरने पर डटे किसानों काे समर्थन देते हुए संबाेधित कर रही थीं। पाटकर ने कहा कि चुनाव में माेदी सरकार ने अंबानी अडानी से चंदा लिया। इसका कर्ज चुकाने श्रमिक हित के 44 कानून रद्द कर संसद में बिना चर्चा के 3 काले कानून किसानों पर थाेपे। अंबानी अडानी ने भंडारण के लिए गुजरात व अन्य राज्याें में गाेदाम बना लिए हैं। इसी कारण सरकार पूरे देश के किसानों के सड़क पर उतरने के बाद भी यह कानून वापस नहीं ले रही, क्याेंकि उन्हें पूंजीपतियों की चिंता है। उन्होंने कहा कि सरकार जिद पर अड़ी रही ताे किसान भी डटे रहेंगे।

जियाे सिम बंद करें किसान और युवा
पाटकर ने युवाओं और किसानों से जियाे सिम बंद करने की बात कही। उन्होंने कहा कि अंबानी अडानी की पूंजी राेज कराेड़ाें में बढ़ रही है। सरकार ने बुनियादी स्ट्रक्चर मजबूत करने पर ध्यान नहीं दिया। नई मंडियां खुलती, सरकारी गाेदाम बनते ताे अनाज नहीं सड़ता। निजीकरण से बेरोजगारी बढ़ रही है।

मुझ पर अंबानी ने हमला कराया : मेधा
पाटकर ने कहा कि साबरमती में अडानी ने उन पर हमला कराया। सरकार निजी कंपनियाें काे 55 पैसे प्रतिलीटर पानी दे रही है, जिसे वे 18-20 रुपए में बेचकर कराेड़ाें का मुनाफा कमा रहे हैं। कच्छ, भुज के लाेगाें काे नर्मदा का पानी नहीं मिल रहा है। अभी अंबानी अडानी काे मिल रहा है। जिसका उन्होंने विरोध किया, इसलिए हमला कराया।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आप बहुत ही शांतिपूर्ण तरीके से अपने काम संपन्न करने में सक्षम रहेंगे। सभी का सहयोग रहेगा। सरकारी कार्यों में सफलता मिलेगी। घर के बड़े बुजुर्गों का मार्गदर्शन आपके लिए सुकून दायक रहेगा। न...

    और पढ़ें