पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

इंसानों पर बाघ का हमला:खून के निशान का पीछा कर बाघ को तलाशा; ड्रोन कैमरे से रखी बाघ की हरकतों पर नजर

हरदा12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
वाहन से स्ट्रेचर निकालते वनकर्मी। - Dainik Bhaskar
वाहन से स्ट्रेचर निकालते वनकर्मी।
  • चरवाहे का शिकार और वनरक्षक को घायल करने वाला घायल बाघ पहाड़ी नाले में बैठा मिला

चरवाहे काे मारने, वनरक्षक और दूसरे चरवाहे काे घायल करने वाले आदमखाेर बाघ की मंगलवार को लोकेशन मिल गई है। टीम ने घायल बाघ के टपकते खून के निशान का पीछा किया। उस दिशा में ड्रोन कैमरा उड़ाया, जिसमें बाघ एक पहाड़ी नाले में बैठा दिखाई दिया। यह स्थान हमला स्थल से आधा किमी की दूरी पर है। उसकी मूवमेंट पर ड्राेन से नजर रखी गई। एसटीआर की रेस्क्यू टीम के 10 सदस्य के साथ 6 रेंज के अधिकारी-कर्मचारी दाेपहर तक बाघ की सर्चिंग करते रहे।

बाघ गंभीर घायल बताया जा रहा है। लोकेशन मिलने के बाद रेस्क्यू टीम के अधिकारियाें ने बाघ के रेस्क्यू का प्लान बनाया। दाेपहर 3.37 बजे बाघ काे ट्रेंकुलाइज (बेहाेश) करने का निर्णय लिया गया। होशंगाबाद एसटीआर के क्षेत्र संचालक एल कृष्णमूर्ति व एसटीआर उप संचालक एसके शुक्ला ने बताया रेस्क्यू के लिए सिद्धनाथ, स्मिता एवं लक्ष्मी नाम के तीन हाथी बुलाए गए हैं। बुधवार सुबह इनकी मदद से बाघ को ट्रेंकुलाइज किया जाएगा। सोमवार को इस बाघ ने चरवाहे काे मारा था, वनरक्षक काे घायल किया था।

रात से खाेज रही थी तीन टीमें, पिंजरा नहीं लगाया
सोमवार देर शाम से रात तक 3 टीमें बाघ को खोज रही थी। सतपुड़ा टाइगर रिजर्व टीम के साथ 3 रेंज रहटगांव, टेमा गांव और बोरपानी रेंज ऑफिसर मुकेश रघुवंशी, डीके मराठा व नीता शाह अपने दल बल के साथ मौजूद थे। हांलाकि रात में बाघ को पकड़ने पिंजरा नहीं लगाया गया था। सिर्फ उसके मूवमेंट पर ध्यान जरूर दिया जा रहा था।

हाथियाें के दल की ले सकते हैं मदद
सतपुड़ा टाइगर रिजर्व रेंज के विशेषज्ञ ने बताया कि बाघ अकेला है। उसने अपनी रक्षा के लिए हमला किया है। मौके पर हाेशंगाबाद एसटीआर के क्षेत्र संचालक एल कृष्णमूर्ति ने बताया रेस्क्यू टीम बाघ काे पकड़ने हाथियों के दल के साथ आगे का रेस्क्यू किया जाएगा। उन्हाेंने कहा बाघ सुबह व शाम के वक्त हमला करते हैं। वह आदमखोर नहीं है। उसने अपनी रक्षा के लिए हमला कर दिया है। ग्रामीणाें काे सचेत रहना चाहिए।

जल जमाव वाली जगहों पर 5-5 लोगों की टीम तैनात
दाेपहर करीब 1 बजे बाघ दिखने के बाद टीम ने जंगल में एक जगह डेरा डाला। ड्राेन की मदद से बाघ काे पास से देखने पहुंचे। फिर टीम के वरिष्ठ अधिकारी पड़ाव स्थल पर लाैटे। खाना खाया। उसी समय क्षेत्र संचालक एल कृष्णमूर्ति ने बाघ काे बेहाेश करने की काेशिश करने का निर्णय सुनाया। सभी ने जल्द खाना खाया और तैयारी में जुट गए। जंगल में जहां पानी जमा था वहां भी 5-5 सदस्यीय टीम काे तैनात किया।

ड्रोन कैमरे से रखी बाघ की हरकतों पर नजर
दाेपहर करीब 3.37 बजे टीम ने बाघ काे बेहाेश करने की प्लानिंग की। करीब 30 मिनट बाद बाघ अपने स्थान से कुछ देर के लिए हटा ताे टीम ने रेस्क्यू काे प्लान बदलना पड़ा। ड्रोन कैमरे से बाघ की हर हरकत पर नजर रखी गई।

वनांचल के काम राेके, मजदूराें काे हटाया
डीएफओ नरेश दोहरे ने बताया सभी रेंज में काम चल रहे थे, उन्हें रोककर मजदूरों को जंगल से हटा दिया है। घटनास्थल पर विधायक संजय शाह पहंुचे। मृतक के परिजनाें की मदद के लिए अधिकारियाें से बात की।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- व्यस्तता के बावजूद आप अपने घर परिवार की खुशियों के लिए भी समय निकालेंगे। घर की देखरेख से संबंधित कुछ गतिविधियां होंगी। इस समय अपनी कार्य क्षमता पर पूर्ण विश्वास रखकर अपनी योजनाओं को कार्य रूप...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser