पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मजबूरी:लॉकडाउन का असर: एक अतिथि शिक्षक सब्जी, दूसरा सिंघाड़ा बेचकर कर रहा गुजर बसर

रहटगांवएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • बेराेजगारी के दाैर में अतिथि शिक्षकाें ने पेट पालने तलाशी राेजी-राेटी

लाॅकडाउन में स्कूल बंद हाेने से अतिथि शिक्षक बेराेजगार हाे गए। अब रहटगांव क्षेत्र के दाे अतिथि शिक्षकों ने राेजगार के साधन ढूंढ लिए है। एक सब्जी बेच रहा है तो दूसरा हाथ ठेले पर सिंघाड़ा बेचकर परिवार का पेट पाल रहा है। उन्हाेंने कहा कि लाॅकडाउन में उनके सामने राेजगार का संकट था। अब सब्जी बेचकर गुजर-बसर कर रहे हैं।

9 साल से अतिथि शिक्षक बेच रहा सब्जी: खमगांव निवासी शैलेंद्रसिंह राजपूत पिता भैयालाल ने डीएड की डिग्री हासिल की है। वह पिछले 9 साल से शासकीय शाला खमगांव में अतिथि शिक्षक था। लाॅकडाउन में नाैकरी चली गई। अब जीवन यापन के लिए यह कार्य कर रहे हैं। उनके परिवार में पत्नी राजंती राजपूत (29), बेटी अंशिका राजपूत (11) का पेट पालने के लिए उन्हाेंने रहटगांव बाजार में सड़क किनारे बैठकर सब्जी बेचना शुरू कर दिया।

हाथ ठेले पर सिंघाड़ा बेच रहा अतिथि शिक्षक

लाॅकडाउन में अतिथि शिक्षक की नाैकरी जाने के बाद सुनील हर्णे ने सिंघाड़े का ठेला लगा लिया। उसके पास राेजीराेटी का काेई दूसरा जरिया नहीं बचा था। उसने बताया कि उसके परिवार में पत्नी जयंती हर्णे (30), बेटी तनुश्री (6) व कनक (2) शामिल है। परिवार का पेट भरने के लिए वह रहटगांव में ठेले पर सिंघाड़ा बेच रहा है। बमुश्किल परिवार का भरण-पाेषण कर पा रहा है। हर्णे 5 साल से प्राथमिक शाला सियाराम बाबा कुटी में अतिथि शिक्षक था।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- रचनात्मक तथा धार्मिक क्रियाकलापों के प्रति रुझान रहेगा। किसी मित्र की मुसीबत के समय में आप उसका सहयोग करेंगे, जिससे आपको आत्मिक खुशी प्राप्त होगी। चुनौतियों को स्वीकार करना आपके लिए उन्नति के...

और पढ़ें