नई मुसीबत / धुआं करने से बिखरा टिड्डी दल.. आठ से बढ़कर 12 गांवों में फैल गया दायरा

Locust parties scattered due to smoke .. Scope spread from eight to 12 villages
X
Locust parties scattered due to smoke .. Scope spread from eight to 12 villages

  • विभाग ने बदली रणनीति, धुआं न करने के लिए किसानों काे ताबड़तोड़ भेजे मैसेज

दैनिक भास्कर

May 24, 2020, 08:00 AM IST

हरदा. जिले में 4 दिन पहले आए टिड्डी दल ने किसानों और अधिकारियों की नींद उड़ा दी है। किसानों ने टिड्डी के दल काे भगाने के लिए धुआं करना शुरू कर दिया। इस कारण उनका झुंड बिखर गया। इसका उल्टा नतीजा यह हाे गया कि कि अधिकतम 24 घंटे किसी एक जगह रहने वाला टिड्डी दल 4 दिन से जिले में एक से दूसरे गांवाें में भटक रहा है। धुएं का विपरीत असर हाेता देख अब कृषि विभाग ने किसानों से धुआं करने के बजाय केवल साउंड के जरिए ही भगाने की समझाइश दी है। इसके अलावा रात में निगरानी के लिए पटवारी, सचिव व काेटवाराें काे लगाया है। वे टिड्डी दिखने पर अधिकारियों काे सही लाेकेशन बताएंगे। फिर टीम फायरब्रिगेड से कीटनाशक का स्प्रे करेगी।
अधिकारी भी खेताें में किसानों के साथ रतजगा कर रहे हैं। शुरुआती 3 दिनाें तक टिड्डी दल काे भगाने के लिए धुएं का उपयाेग करना उल्टा पड़ गया। आंखाें में धुआं जाने से टिड्डी दल दिशा भटक कर कई टुकड़ाें में बंट गया। पहले हंडिया तहसील में देखा गया। दूसरे व तीसरे दिन खिरकिया के गांवाें में पहुंचा। शनिवार काे टिमरनी के ग्राम दूधकच्छ, पाेखरनी, चारखेड़ा और अबगांवखुर्द सहित अब यह दल 12 गांवों में दिखाई दिया। किसान भी परिजनों के साथ भीषण गर्मी में खेताें में थाली, बाल्टी बजाकर इन्हें भगाते देखे गए।

अपील :  किसान धुआं नहीं, स्प्रे करें

सहायक संचालक कपिल बेड़ा ने बताया कि टिड्डी दल 24 घंटे से ज्यादा कहीं नहीं रहता। संभवतः धुआं करने से वह बिखर गया है। इससे एक ही समय में अलग-अलग गांवाें में इन्हें देखा जा रहा है। अब किसानों काे धुआं करने के बजाय स्प्रे करने अाैर तेज आवाज करने की समझाइश दी है। कलेक्टर के निर्देश पर गांवाें में रात में निगरानी की व्यवस्था बदली है। जिससे टिड्डी दल दिखने पर सही लाेकेशन तुरंत पता चल सके। इससे एक साथ पूरे झुंड काे मारा जा सकेगा।

हर गांव में यह रहेगी नई रणनीति 

हर गांव में पटवारी, काेटवार व ग्राम पंचायत सचिव हैं। अब वे अपने अपने क्षेत्राें में रात में निगरानी करेंगे। इस दाैरान किसी भी खेत में टिड्डी दल दिखाई देने पर तुरंत टीम काे सही लाेकेशन बताएंगे। इसके बाद टीम फाैरन फायरब्रिगेड लेकर टिड्डी दल पर स्प्रे करेगी। जिससे एक साथ ज्यादा मात्रा में इन्हें मारा जा सके।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना