ऑक्सीजन सिलेंडर:आपदा के समय में ऑक्सीजन आपूर्ति में आत्मनिर्भर बनें नर्सिंग हाेम : गुप्ता

हरदा6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • भर्ती हाेने वाले मरीजाें के परिजनाें पर सिलेंडर लाने के लिए न डालें दबाव

अपने यहां नर्सिंग हाेम में भर्ती हाेने वाले मरीजाें के परिजनाें पर ऑक्सीजन सिलेंडर लाने के लिए निजी अस्पताल संचालक दबाव न डालें। आपदा के समय में आवश्यक ऑक्सीजन की आपूर्ति में निजी अस्पताल आत्म निर्भर बनें। कलेक्टर संजय गुप्ता ने निजी अस्पताल व नर्सिंग हाेम संचालकाें से गुरुवार काे यह अनुराेध किया है।

उन्होंने कहा काेराेना का संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है। राेगी सरकारी व निजी अस्पतालाें में भर्ती हाेते हैं। संक्रमित राेगियाें के ऑक्सीजन लेवल कम हाेने पर उन्हें मेडिकल ऑक्सीजन सिलेंडर की व्यवस्था यथा संभव प्रशासन कर रहा है, लेकिन पूरी काेशिश के बाद भी ऑक्सीजन सिलेंडरों की व्यवस्था में बेतहाशा वृद्धि हाे रही है।

आपदा प्रबंधन समिति की बैठक में ऑक्सीजन की उपलब्धता काे लेकर सदस्याें ने सुझाव दिया कि सभी निजी हॉस्पिटल नर्सिंग होम्स को मेडिकल ऑक्सीजन के लिए आत्म निर्भर बनना होगा। जिला प्रशासन मेडिकल आक्सीजन उपलब्ध कराने की हर संभव काेशिश कर रहा है।लेकिन सप्लायर द्वारा समय पर ऑक्सीजन की पर्याप्त उपलब्धता नहीं हो रही है। इसके लिए राेगियाें के परिजनाें पर ऑक्सीजन लाने का दबाव न डालें। कलेक्टर ने कहा कि निजी अस्पतालों द्वारा स्वयं मेडिकल ऑक्सीजन की उपलब्धता के लिए ऑक्सीजन कंसंट्रेटर रोपरेटर यूनिट (एएसयू) की व्यवस्था बनाकर वर्तमान आपदा के समय में आवश्यक ऑक्सीजन की आपूर्ति में आत्म निर्भर बनने की बात कही।

खबरें और भी हैं...