मानसिक विक्षिप्त युवक:15 माह से लापता बेटे की मां से जवान ने कराई बात

हरदा8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • आर्थिक स्थिति ठीक नहीं होने पर परिवार नहीं ला पा रहा, फाैजी ने सीएम व कलेक्टर से युवक काे घर पहुंचाने की मांग की

जिले के सिराली थाना क्षेत्र के डाब्या गांव से गुम हुआ मानसिक विक्षिप्त युवक 15 माह बाद अरुणाचल प्रदेश के चांगलांग जिले में मिला। वह करीब पंद्रह दिन से जवानों के साथ रह रहा है। जवानों ने युवक की मां सीताबाई से उसकी वीडियाे काॅल कर बात कराई।

जानकारी के मुताबिक डाब्या का संजय पिता अमरदास कुमरे (30) करीब 15 माह पहले घर से लापता हाे गया था। नशे का आदी संजय मानसिक रूप से बीमार है। सेना की चौदह राजपूत रेजीमेंट के हवलदार प्रदीप तंवर के मुताबिक संजय उन्हें करीब पंद्रह दिन पहले कबाड़ी के यहां काम करते हुए मिला। उससे पूछताछ की ताे पता चला कि वह हरदा के डाब्या का रहने वाला है। इसकी सूचना उन्होंने अपने अधिकारियों को दी, अधिकारियों ने उसकी मां से मोबाइल पर वीडियाे काॅल कर बात कराई।

गरीब मां बेटे काे लाने में असमर्थ, फाैजी ने बिछड़े बेटे काे मां से मिलाने सीएम से की मांग : राजपूत बटालियन के कैप्टन दीवांशु सिंह, हवलदार प्रदीप सिंह, संदीप, सुदर्शन और सिपाही पवन ने संजय के परिवार के लाेगाें का पता लगाने के लिए काफी मशक्कत की। वह संजय को स्वयं के खर्चे पर उसके घर पहुंचाना चाहते थे।

किंतु परिजनों ने इतनी दूर आने में असमर्थता जाहिर की। इसके बाद हवलदार तंवर ने ईमेल से सीएम शिवराज सिंह चाैहान व कलेक्टर संजय गुप्ता से मां से बिछड़े बेटे से मिलाने की मांग की। इसका नतीजा सामने आया। पुलिस टीम संजय काे लेने के लिए अरुणाचल प्रदेश जाएगी।

पुलिस टीम युवक को लेने जाएगी चांगलांग
^संजय की गुम इंसान की काेई रिपोर्ट दर्ज नहीं हुई। जवान से बात हुई है। पुलिस की एक टीम संजय काे लेने के लिए अरुणाचल प्रदेश जाएगी। इसके लिए ट्रेन रूट देखा जा रहा है।
मनाेज उइके, थाना प्रभारी सिराली

खबरें और भी हैं...