पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अब चाैबीस घंटे सुविधा:लाेगाें काे देखा परेशान तो युवाओं ने जन सहयाेग से खरीदी एंबुलेंस

हरदा17 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
हरदा। ओनली 29 ग्रुप देगा अब एंबुलेंस सेवा। - Dainik Bhaskar
हरदा। ओनली 29 ग्रुप देगा अब एंबुलेंस सेवा।
  • हरदा हेल्प ग्रुप ने दान में मिली सामग्री एकत्रित कर शुरू किया निशुल्क चिकित्सा उपकरण बैंक, लाॅकडाउन काल में शहर और गांवाें के युवाओं ने बढ़चढ़ की लाेगाें की सहायता

युवा यदि अपनी ताकत पहचान लें और उसे समय के साथ सही दिशा में लगा दें ताे उनकी सफलता में काेई संदेह नहीं रह जाता। काेराेना से उपजी विपरीत परिस्थितयाें में जिले के शहरी व ग्रामीण युवाओं ने संक्रमण से जूझने वाले राेगियाें की हर संभव मदद और उनके परिजनाें काे भी यह विश्वास दिलाया कि वे संकट की इस घड़ी में इंसानियत के नाते पूरी तरह उनके साथ हैं। विश्नाेई समाज के ओनली-29 ग्रुप ने काेराेना काल में जब राेगियाें काे गांवों से अस्पताल लाने के लिए वाहन सुविधा का अभाव देखा ताे जन सहयाेग से एंबुलेंस खरीदी।

जिसका संचालन अब लाेगाें के लिए समूह के युवा खुद चाैबीस घंटे करेंगे। इधर शहर में 20 अप्रैल से सक्रिय हरदा हेल्प ग्रुप ने चिकित्सा उपकरण बैंक सेवा शुरू की है। खास बात यह है कि इन दाेनाें समूहाें ने आपदा में ऑक्सीजन सिलेंडर, कंसंट्रेटर, सुबह-शाम भाेजन, रक्तदान की मदद दी। बेबस लाेगाें की परेशानी दूर करने आए आगे : संकट में फंसे लाेगाें काे परेशान हाेते देखा, जब रुपए देकर भी ऑक्सीजन नहीं मिल रही थी। अस्पताल वाले राेगियाें के परिजनाें पर ऑक्सीजन लाने का दबाव बना रहे थे, तब विश्नाेई समाज के अाेनली-29 ग्रुप ने मदद के हाथ बढ़ाए।

वाहन सुविधा नहीं मिली ताे बाइक या गाेद में भी टीम के लाेग राेगियाें काे लेकर अस्पताल पहुंचे। कोरोना कर्फ्यू के दौरान राेगियाें, उनके परिजनाें व बेराेजगाराें का भाेजन संकट दूर करने ग्रुप ने निशुल्क राशन बांटा। संक्रमण के डर से लाेग रक्तदान से परहेज करने लगे, ताे इसे हल करने दाे दिनी रक्तदान कैंप लगाया।

युवाओं ने खुद 50 यूनिट खून दिया। लाॅकडाउन में राेगियाें, उनके परिजनाें काे सुबह-शाम भाेजन कराया। बेराेजगाराें काे फ्री राशन किट दी। गांवाें में मास्क, सैनिटाइजर बांटकर अब वैक्सीनेशन के लिए प्रेरित कर रहे हैं। युवाओं काे गांव, समाज के लाेगाें के अलावा देवास, खातेगांव से भी मदद मिली।

अाॅक्सीजन, भाेजन, रक्तदान, राशन के बाद अब मेडिकल किट

हरदा हेल्प ग्रुप ने नई पहल शुरू की है। जन सहयाेग से जुटाए ऑक्सीजन सिलेंडर, कंसंट्रेटर जैसे मेडिकल संबंधी उपकरण जरूरतमंद लाेगाें काे दिए जा रहे हैं। इससे लाेगाें काे ये महंगे उपकरण खरीदना नहीं पड़ेंगे।

टीम के शिशिर बंसल, नीतेश अग्रवाल, धीरज अग्रवाल ने कहा जन सहयाेग से मिली सामग्री व दान काे जरूरतमंदाें की मदद में खर्च कर रहे हैं। नीतेश अग्रवाल ने बताया नितिन दुबे ने उनके पिता की स्मृति में फाेल्डिंग बेड, व्हील चेयर आदि सामान दिया। ग्रुप ने लोगाें से आग्रह किया यदि उनके पास ऐसे उपकरण हैं जाे अब काम नहीं आ रहे हाें ताे वे समूह काे देकर सहयाेग करें, जिनका उपयाेग हाे सके।

ऑक्सीजन से राशन तक का सफर
काेराेना काल में लाेगाें की मदद के लिए 20 अप्रैल काे ऑक्सीजन उपलब्ध कराने के लिए बना हरदा हेल्प ग्रुप डेढ़ माह से लगातार समाजसेवा कर रहा है। समूह ने जन सहयाेग से दाेनाें समय अस्पताल, सभी नर्सिंग हाेम में भाेजन, ऑक्सीजन सिलेंडर, कंसंट्रेटर, फ्लाे मीटर दिए।

खून की कमी से जूझने वालाें के लिए रक्तदान किया। ब्लैक फंगस से बचाव के लिए दाे दिनी जागरूकता कैंप लगाया। वैक्सीनेशन के रजिस्ट्रेशन में फ्री सहयाेग कर रहा है। खास बात यह है कि शासन से मदद नहीं मिलने से परेशान परिवाराें काे अाटा, दाल, चावल, साबुन, तेल, मसालाें की किट दे रहे हैं। सहयाेग देने, सामग्री प्राप्ति के लिए शिशिर बंसल 9826868420 से संपर्क किया जा सकता है।

खबरें और भी हैं...