पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

रात 1 बजे के बाद माैके पर टीम पहुंची:तार टूटा, पांच घंटे बिजली गुल, उमस में लाेगाें ने किया रतजगा

हरदा13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

शनिवार रविवार की दरमियानी रात दाे वार्ड के लाेगाें काे रात काे रतजगा करना पड़ा। शनिवार रविवार की रात करीब 12 बजे अचानक जाेशी काॅलाेनी में बिजली का तार टूट गया। रात 1 बजे के बाद माैके पर टीम पहुंची। अंधेरे में काम करने में काफी समय लगा। सुबह साढ़े 5 बजे व्यवस्था सुचारु हाे पाई। लाेग उमस व मच्छराें के कारण रातभर नहीं साे पाए। महारानी लक्ष्मीबाई वार्ड 28 में स्थित जाेशी काॅलाेनी से गुजरे बिजली के पुराने तार शनिवार रविवार की रात काे बिना हवा आंधी बारिश के बीच अचानक टूट कर गिर गए। जिससे जाेशी काॅलाेनी और वार्ड 27 की सादानी काॅलाेनी पूरी तरह अंधेरे में डूब गई।

काॅलाेनी के नरेंद्र ओनकर ने बताया कि उन्हाेंने बिजली कंपनी के अधिकारियाें काे सूचना दी लेकिन शुरुआती एक घंटे तक काेई रिस्पांस नहीं मिला। रात करीब एक बजे कर्मचारी माैके पर पहुंचे,जिन्हाेंने अंधेेरे में टार्च की मदद से फाल्ट खाेजना शुरू किया।

टीम ने बताया कि तार काफी पुराना था,इस कारण आए दिन टूट रहा था। आने वाले दिनाें में भी वह परेशानी का कारण बनता,इसलिए उसे बदल दिया,जिससे लाेगाें काे बारिश में परेशानी नहीं हाेगी। टीम ने बताया पूरा तार बदलने में समय लगा।

रात के कारण भी काम में थाेड़ा ज्यादा समय लगा। सुबह साढ़े 5 बजे बिजली व्यवस्था सुचारु हुई,जिसके बाद लाेगाें ने राहत महसूस की। सादानी काॅलाेनी निवासी जसाेदा बाई ने बताया कि उमस व मच्छराें के कारण रातभर बच्चाें काे गमछे से हवा करते रहे। वहीं बुजुर्ग बीमार लाेगाे काे भी परिजन हवा करते रहे। बिजली कंपनी के उप महाप्रबंधक वतन खाडे ने बताया कि तार टूट गया था,जिसकी बदला गया।

खबरें और भी हैं...