पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मरीजाें की परेशानी:सरकारी अस्पताल के एक्स-रे कक्ष में 4 दिन से लगा ताला, निजी सेंटर पर जाने की मजबूरी

खिरकिया2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • एक्स-रे टेक्नीशियन के दाे माह के अवकाश पर चले जाने से हाे रही परेशानी

ब्लाॅक मुख्यालय के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में 4 दिनाें से एक्स-रे रूम में ताला लटक रहा है। इस कारण एक्स-रे टेक्नीशियन का अवकाश पर चले जाना है। सरकारी अस्पताल में मरीजों का एक्सरे समय पर नहीं हो रहा है। लगभग 3 माह से टेक्नीशियन ने एक दिन के अंतराल से अस्पताल में ड्यूटी की। अब टेक्नीशियन के 2 माह की छुट्टी पर जाने से फिर से अस्पताल में व्यवस्था बिगड़ गई है।

हार्ट का मरीज हाेने के कारण टेक्नीशियन का अक्सर ही स्वास्थ्य खराब रहता है। इसके चलते अस्पताल में एक्स-रे करने की व्यवस्था एक साल से बिगड़ी हुई है। फिलहाल एक्स-रे टेक्नीशियन सुभाष माटे के 23 नवंबर को अवकाश पर चले जाने से एक्स रे रूम पर ताला लगा हुआ है। अगले 2 माह तक यही स्थिति बनी रहेगी। ऐसे में अस्पताल में मरीजों के एक्स-रे की सुविधा पूरी तरह से बंद होने से परेशानी और भी बढ़ गई है। मरीजों का एक्स-रे अब जिला अस्पताल अथवा निजी सेंटराें पर ही होंगे।

पहले भी टेक्नीशियन के टिमरनी से अपडाउन करने के चलते रूम का ताला समय पर नहीं खुलता था। 3 माह से वे एक दिन के अंतराल से ड्यूटी पर आ रहे थे। इससे मरीजों को दिक्कत होती रही। खिरकिया में एक्स-रे की कोई अन्य सुविधा नहीं होने से मरीज और उनके परिजन समस्या का सामना कर रहे हैं। सालभर पहले भी टेक्नीशियन के एक माह के अवकाश पर चले जाने से मरीजों के एक्स-रे नहीं हो रहे थे। अब फिर से मरीजों को समस्या होगी।

वैकल्पिक व्यवस्था करेंगे

एक्स-रे टेक्नीशियन को हार्ट की तकलीफ है। कुछ महीनों से एक दिन के अंतराल से ड्यूटी करता रहा। 23 नवंबर से 2 माह के मेडिकल अवकाश पर चला गया है। टेक्नीशियन की वैकल्पिक व्यवस्था करने सीएमएचओ काे पत्र लिख दिया है।

-डॉ. आरके ओनकर, बीएमओ खिरकिया

गरीब लाेगाें पर बढ़ रहा आर्थिक बाेझ

क्षेत्र में सड़क हादसों और मारपीट की घटनाओं में घायल मरीजों को एक्स - रे के लिए भटकना पड़ता है। मरीजों के एक्स-रे सरकारी अस्पताल में नहीं होने से उनकी परेशानी बढ़ गई है। एक्स-रे कराने परिजन मरीज को हरदा लेकर जा रहे हैं। इस दौरान गरीब और मध्यम वर्ग के लोगों पर आर्थिक बोझ बढ़ रहा है।

हरदा जाने से लोगों के समय और रुपए की बर्बादी भी होती है। इसके अलावा पुलिस को भी लड़ाई-झगड़े और अन्य मामलों में संबंधित की एमएलसी कराने में दिक्कत आ रही है। पुलिस को भी ऐसे मामलों में संबंधित घायल को हरदा भेजकर ही एक्स-रे करना पड़ रहा है। समय पर एक्स-रे रिपोर्ट नहीं मिलने से पुलिस की जांच भी प्रभावित होती है।

ओपीडी पहुंच रहे प्रतिदिन 40-70 मरीज

मौसम के करवट लेते ही ओपीडी में भी प्रतिदिन 40 से 70 मरीज प्रतिदिन पहुंच रहे हैं। इनमें वायरल फीवर, सर्दी, खांसी के मरीज भी शामिल हैं। ओपीडी में दर्ज मरीजों का बीएमओ डॉ. आरके ओनकर और मेडिकल ऑफिसर डॉ. प्रणव मोदी स्वास्थ्य जांच कर रहे हैं।

इसके अलावा अस्पताल में प्रतिदिन ही 50 लोगों की कोरोना जांच भी चल रही है। सैंपल लेने के बाद जिला अस्पताल में भेजने की प्रक्रिया भी जारी है। ठंड बढ़ने के चलते अब अस्पताल में पहुंचने वाले मरीजों की संख्या में भी वृद्धि होगी। अस्पताल में मरीजों की कोरोना जांच तो हो रही है, लेकिन एक्स-रे नहीं होने से मरीजों को परेशानी उठाना पड़ रही है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थितियां आपको कई सुअवसर प्रदान करने वाली हैं। इनका भरपूर सम्मान करें। कहीं पूंजी निवेश करने के लिए सोच रहे हैं तो तुरंत कर दीजिए। भाइयों अथवा निकट संबंधी के साथ कुछ लाभकारी योजना...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser