दुष्कर्म के आरोपी को सजा:नाबालिग से ज्यादती के आरोपी को 10 साल कैद

इटारसी9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

एक नाबालिग को बहला-फुसलाकर पहले इंदौर फिर धार ले जाकर एक मंदिर में शादी करने वाले आरोपी थान सिंह को इटारसी कोर्ट ने 10 साल कैद की सजा सुना दी है। यह फैसला पीड़िता की मां की थाने में दर्ज करवाई गई। गुमशुदगी की रिपोर्ट के 6 साल बाद मामला सामने आया है। चार साल बाद लड़की पुलिस को मिली थी। साथ में ढाई साल की बच्ची भी थी जिसे उसने आरोपी और अपनी पुत्री बताया।

पुलिस ने सबूत के लिए डीएनए टेस्ट करवाया। इसकी टेस्ट रिपोर्ट पाॅजीटिव पाई गई जिससे यह साबित हुआ कि बच्ची के जैविक माता-पिता नाबालिग मां और आरोपी थान सिंह है। विवाह और बच्चे के जन्म में नाबालिग की सहमति अमान्य होने पर द्वितीय अपर सत्र न्यायाधीश सविता जड़िया ने नाबालिग को अगवा कर ले जाने और उसके साथ बलात्कार करने के आरोपी थान सिंह को 10 साल के कारावास की सजा सुनाई गई।

मामला 8 मार्च 2015 का है। मां ने इटारसी थाने में अपनी नाबालिग लड़की के गुम होने की सूचना दी थी। अज्ञात आरोपी पर एफआईआर दर्ज करने के लगभग 4 वर्ष बाद नाबालिग लड़की को पुलिस ने बरामद किया। नाबालिग ने पुलिस को बताया कि थान सिंह ने उसके साथ ज्यादती की है।

खबरें और भी हैं...