रोष:टैक्स माफ करने की मांग को लेकर पैदल बैतूल पहुंचे बस संचालक, रास्ते में 1 बेहाेश

मुलताईएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
मुलताई। टैक्स माफ करने की मांग को लेकर बस संचालक प्ररदर्शन करते हुए। - Dainik Bhaskar
मुलताई। टैक्स माफ करने की मांग को लेकर बस संचालक प्ररदर्शन करते हुए।
  • बस संचालक, ड्राइवर, कंडेक्टर, एजेंट बैतूल पहुंचे, कलेक्टर को दिया ज्ञापन

लॉकडाउन अवधि में बसों का संचालन ठप रहने से बस संचालकों ने टैक्स माफ करने की मांग को लेकर मंगलवार को प्रदर्शन किया। मुलताई के अांबेडकर चौक से बस संचालकों, ड्राइवर, कंडक्टर्स और एजेंटों ने बैतूल जाने के लिए पैदल मार्च शुरू किया। नगर सीमा के बाहर पहुंचते ही अर्धनग्न होकर नारेबाजी करते हुए बैतूल की ओर रवाना हुए। पैदल मार्च के लिए प्रदर्शनकारियों ने अलग-अलग टोली बनाई थी। 

एक टोली 10 किमी पैदल चलती थी, तो दूसरी टोली वाहन से दूरी तय करती थी।  इसके बाद वाहन में बैठी टोली पैदल चलती थी और दूसरी टोली वाहन में सवार होती थी। इस प्रकार प्रदर्शनकारी 50 किमी की दूरी तय कर बैतूल पहुंचे।

बस संचालक विजय शुक्ला, गुड्‌डू मालवीय, रामकरण सिमैया, अमन शुक्ला, संजय भारती, सतीष बारंगे, बाबू पठान, संतोष बंगाली, हाजी शमीम खान आदि ने बताया लॉकडाउन के चलते तीन महीनों से बसों का संचालन नहीं हो रहा है। इसके बाद भी सरकार ने टैक्स जमा करने के आदेश जारी कर दिए हैं। लॉकडाउन अवधि का टैक्स माफ करने की मांग रखी तो प्रशासन परमिट निरस्त करने की धमकी दे रहा है। टैक्स माफ करने, डीजल के दामों में हुई बढ़ोतरी को देखते हुए किराया बढ़ाने सहित अन्य मांगों को लेकर प्रदर्शन कर कलेक्टर को ज्ञापन दिया है।  

खबरें और भी हैं...