नाटक का मंचन:बेकसूर बेटी नाटक का मंचन देखने उमड़ी ग्रामीणों की भीड़

मुलताई2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • बिना कारण बेटियों को प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से मिलने वाली सजा को बताया गया

ग्राम सावरी के बड़ चौक में मंगलवार रात को बेकसूर बेटी नाटक का मंचन हुआ। नाटक देखने सावरी सहित आसपास गांवों के ग्रामीण बड़ी संख्या में पहुंचे। नाटक का मंचन ग्राम सेंद्रया के कलाकारों द्वारा किया गया। नाटक देखने के बाद ग्रामीणों ने बेटी बचाने और बेटी पढ़ाने का संकल्प लिया। आयोजन समिति के महेंद्र कासलेकर, बिट्‌टू, प्रवीण पठाड़े, लल्लू पठाड़े ने बताया नाटक के माध्यम से समाज में बेटियों के साथ हो रहे भेदभाव को प्रस्तुत किया गया।

बिना कारण बेटियों को प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से मिलने वाली सजा को बताया गया। नाटक में बताया राजा विजयपाल किस प्रकार मंत्री और पंडित की बातों में आकर बेटी को जंगल भेज देता है। जब राजा को सच्चाई पता चलती है तो मंत्री और पंडित को फांसी की सजा दी जाती है। नाटक में राजा विजयपाल का अभिनय रूपेश पवार, राजा के पुत्र सत्यपाल का अभिनय प्रवीण पवार, पुत्री सत्यवती का अभिनय दीपक पवार, मंत्री का अभिनय योगेश पवार, पंडित का सुनील पवार, रानी का अभिनय पवन कुमार और दूसरे राजा का अभिनय अन्नू पवार ने किया।

खबरें और भी हैं...