रामलीला:देवताओं ने किया मां सरस्वती को याद, ताे मिला राम काे 14 साल का वनवास

रानीपुर22 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • रामलीला मंडल हीरावाड़ी के माध्यम से रामलीला मंचन जारी है

रामलीला मंडल हीरावाड़ी के माध्यम से रामलीला मंचन जारी है। रामलीला के पांच में दिन अयोध्या में राज्य अभिषेक की प्रस्तुति हुई। सम्राट दशरथ के ज्येष्ठ सुपुत्र श्रीराम के राज्याभिषेक की सूचना जैसे ही देवगणों को मिली, देवताओं ने तत्काल मां सरस्वती को याद कर चिंता व्यक्त की यदि श्रीराम को अयोध्या का राजा बना दिया, तो ब्रह्मांड में रावण जैसे आतताइयों का पाप बढ़ जाएगा। अतः सभी देवताओं ने मां सरस्वती से कैकई, मंथरा की मति फेर दी।

इस पर उन्हाेंने श्रीराम को 14 बरस वनवास व भरत को अयोध्या का राजा बनवाने की प्रार्थना राजा के समक्ष रखी। समिति के वरिष्ठ कलाकार राजेश सिनोटिया ने बताया कई वर्ष पूर्व से रामलीला का मंचन किया जा रहा है। भावी पीढ़ी को श्रीराम लला के आदर्श, समर्पण व त्याग को भी बताने के लिए भी रामलीला का मंचन किया जा रहा है।

खबरें और भी हैं...