पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सीमेंट सड़कें कीचड़ में तब्दील:सीवरेज लाइन के लिए खोदी सड़कें, जमा हो रहा गंदा पानी; आवाजाही में हो रही परेशानी

मुलताई9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
मुलताई। सड़क खुदाई होने से जगह-जगह पानी भी थमने लगा है। - Dainik Bhaskar
मुलताई। सड़क खुदाई होने से जगह-जगह पानी भी थमने लगा है।

ताप्ती सरोवर में गंदे पानी की आवक रोकने के लिए सीवरेज लाइन का निर्माण किया जा रहा है। तीन वार्डों में सीवरेज लाइन बिछाने के लिए सीमेंट सड़कों को बीच में से खोदा जा रहा है। सड़क खुदाई में निकले मलबे से ही सीवरेज की पाइप लाइन को जमीन में दबाया जा रहा है। बारिश में मलबा कीचड़ में तब्दील हो गया है। जिससे लोगों को आवाजाही में परेशानी हो रही है। ताप्ती सरोवर में बारिश के समय पानी की आवक होती है।

बारिश का पानी जिन जलमार्ग से सरोवर में पहुंचता है उसमें तीन वार्डों के घरों से निकलने वाला पानी भी जमा होता है। गंदे पानी को सरोवर के जलमार्ग में मिलने से रोकने के लिए नगर पालिका सीवर लाइन का निर्माण कर रही है। सीवरेज के लिए पाइप लाइन बिछाने के लिए ठेकेदार द्वारा सीमेंट सड़कों को बीच में से खोद रहा है। पाइप लाइन के ऊपर खुदाई में निकले मलबे को डाला जा रहा है।

सड़कों की खुदाई कर 6.8 किमी बिछ गई है पाइपलाइन
ताप्ती वार्ड, पटेल वार्ड और इंदिरा गांधी वार्ड में 22.5 किमी सीवरेज पाइप लाइन बिछाई जाना है। सड़कों की खुदाई कर 6.8 किमी पाइप लाइन बिछाई जा चुकी है। घरों से निकलने वाले गंदे पानी छोटे चैंबर का पानी मुख्य चैंबर में पहुंचेगा। मुख्य चैंबर 751 बनना है। जिसमें से 130 चैंबर बन गए है।

सीवरेज लाइन के साथ ट्रीटमेंट प्लांट का काम नहीं हुआ शुरू
सीवरेज लाइन का निर्माण कार्य ठेकेदार को जनवरी तक पूरा करना है। सीवरेज लाइन के साथ ट्रीटमेंट प्लांट का भी निर्माण होना था। नपा कार्यालय परिसर के पास ट्रीटमेंट प्लांट बनना है। लेकिन इसका काम शुरू नहीं हुआ है। ऐसे में समय सीमा में कार्य होना संभव नजर नहीं आ रहा है।

लाइन की टेस्टिंग के बाद होगी सड़कों की मरम्मत
नपा उपयंत्री पंकज धुर्वे ने बताया सीवरेज पाइप लाइन बिछाने और टेस्टिंग के बाद सड़कों की मरम्मत होगी। बारिश में कीचड़ नहीं हो इसके लिए बजरी, मुरूम डाली जाएगी। ठेकेदार को कार्य समय सीमा में करने के निर्देश दिए हैं। सड़कों की मरम्मत ठेकेदार को करना है। लोगों का कहना है जहां पाइप लाइन बिछाई जा चुकी है उन सड़कों की मरम्मत की जाना चाहिए। जिससे आवाजाही में सुविधा हो सके।

खबरें और भी हैं...