समर्थन मूल्य / जिले में 70 हजार किसानाें ने गेहूं बेचा, कई किसानों का भुगतान रुका

X

दैनिक भास्कर

May 24, 2020, 08:09 AM IST

होशंगाबाद. जहां इस बार गेहूं का बंपर उत्पादन हुआ है, वहीं किसानों को स्वीकृति पत्रक नहीं बनने से गेहूं का भुगतान किसानों को नहीं मिल पा रहा है। वहीं इस बार 5 हजार से ज्यादा किसानों से गेहूं खरीदी नहीं हुई है। वहीं बेचने वाले किसान अपनी उपज बेचने के बाद भी भुगतान के लिए भटक रहा है। 
कई किसानों काे पिछले 20 से 25 दिनों बाद भी भुगतान नहीं हुआ है। कहा जा रहा है कि परिवहन की धीमी गति के कारण भी किसानों के भुगतान में लेटलतीफी हो रही है। शासन ने किसानों को सुविधा मुहैया कराने के लिए खरीदी को 22 मई से बढ़ाकर 26 मई कर दिया है, इसके बाद भी कई खरीदी केंद्रों में सन्नाटा पसरा हुआ है। पिछले तीन दिन से 100 से अधिक खरीदी केंद्र सुनसान हैं। 
सूत्रों की मानें तो अंतिम तिथि तक भी किसान शेष होने और एसएमएस नहीं मिलने से किसान नहीं आ रहे है। बांकी 60 केंद्रों को बंद भी करवा दिया है। अब तीन दिन में ही किसानों को अपना गेहूं बेचना हाेगा। इसके बाद खरीदी बंद हो जाएगी।

जीतेंद्र सिंह, उपसंचालक कृषि के मुताबिक, जिले में 70 हजार किसानों ने अपना गेहूं बेच दिया है। तीन दिन का समय है। सभी किसानों से गेहूं खरीदी हाेगी। भुगतान भी किसानों को किया जा रहा है।
 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना