• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Hoshangabad
  • A Young Businessman Of Raipur Was Murdered In The Party Of Millionaire Bike Riders, Honey Oberoi Acquitted, But Will Have To Stay In Jail, The Gunman Punished

CG के स्टील कारोबारी के बेटे की हत्या में फैसला:2019 में MP के पचमढ़ी में मारी थी गोली; दुर्ग का बिजनेसमैन बरी, गनमैन को उम्रकैद

होशंगाबाद4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
2019 में पचमढ़ी में बाइक राइडर्स जुटे थे। होटल चंपक में पार्टी में कहा-सुनी के बाद कपिल को गोली मार दी गई थी।- फाइल फोटो। - Dainik Bhaskar
2019 में पचमढ़ी में बाइक राइडर्स जुटे थे। होटल चंपक में पार्टी में कहा-सुनी के बाद कपिल को गोली मार दी गई थी।- फाइल फोटो।

MP के हिल स्टेशन पचमढ़ी में 2019 में हुई रायपुर के स्टील कारोबारी के बेटे कपिल कक्कड़ की हत्या में सोमवार को कोर्ट का फैसला आ गया। हाईप्रोफाइल हत्याकांड के आरोप में फंसे दुर्ग के ही बिजनेसमैन हरसिमरन उर्फ हनी ओबेराय को बरी कर दिया गया, लेकिन कोर्ट ने उसके गनमैन धर्मपाल को दोषी मानते हुए उम्रकैद की सजा सुनाया है। हनी को भी अभी जेल में ही रहना होगा।

2019 में पचमढ़ी में बाइक राइडर्स जुटे थे। होटल चंपक में पार्टी में कहासुनी के बाद कपिल को गोली मार दी गई थी। केस में अपर सत्र न्यायाधीश कीर्ति कश्यप की कोर्ट में फैसला सुनाया गया। अपर लोक अभियोजक सुनील चौधरी ने बताया कि हनी को सबूतों के अभाव में बरी कर दिया गया। किसी भी गवाह ने हनी को घटना में संलिप्त नहीं बताया। फैसला 100 पेज में आया।

पूरा मामला जानिए
सितंबर 2019 के आखिरी सप्ताह में पचमढ़ी में बाइक राइडर्स ने तीन दिवसीय कार्यक्रम रखा था। ऑल इंडिया बाइकर्स एसोसिएशन के देशभर से 100 से ज्यादा बाइक राइडर पचमढ़ी के चंपक होटल में ठहरे थे। इनमें छत्तीसगढ़ से भी 22 बाइक राइडर्स थे। रायपुर के चर्चित स्टील कारोबारी तिलकराज कक्कड़ का इकलौता बेटा कपिल भी दोस्तों के साथ आया था। दुर्ग के कांट्रैक्टर कंवलजीत सिंह ओबेराय का बेटा हनी ओबेराय भी गनमैन धर्मपाल (लखनऊ निवासी) को साथ लेकर पहुंचा था।

28 सितंबर की रात 11.15 बजे पार्टी में हनी ओबरॉय के साथ गनमैन धर्मपाल भी शामिल हुआ। कपिल कक्कड़ ने आपत्ति लेते हुए कहा था कि गनमैन को पार्टी से बाहर निकालो। वैसे भी हनी को किससे खतरा है। गनमैन डायनिंग हॉल से बाहर लॉन में चला गया, लेकिन तब तक बात बढ़ गई। कपिल के बर्ताव पर हनी बोला- गनमैन निजी है, साथ रहेगा। कपिल-हनी झगड़ने लगे, मारपीट हो गई। लड़ते-लड़ते लॉन में आ गए, जहां गनमैन धर्मपाल खड़ा था। गनमैन ने रिवॉल्वर से कपिल पर दो फायर किए। एक गोली जबड़े को फाड़ते हुए निकल गई। कपिल की मौत हो गई। मामले में पचमढ़ी पुलिस ने हनी ओबेराय और धर्मपाल के खिलाफ हत्या का केस दर्ज किया था।

हत्याकांड में हनी बरी, लेकिन जेल में रहना होगा
कपिल कक्कड़ हत्याकांड में हनी बरी तो हो गया, लेकिन उसे पिपरिया उप जेल में ही रहना होगा। दरअसल, कुछ महीने पहले जेल में एक प्रहरी के साथ कुछ बंदियों ने मारपीट की थी। इसमें हनी भी शामिल था। मामले में SC-ST ऐक्ट की धाराओं में केस दर्ज किया गया था। इस मामले में हनी की जमानत नहीं हुई है।

VIP इवेंट था, जुटे थे करोड़पती
बाइक राइडर्स के इवेंट में आए छत्तीसगढ़ के सभी मेंबर चंपक होटल में ठहरे थे। कपिल कक्कड़ रायपुर के 36 कैवेलरी बाइक राइडर ग्रुप का मेंबर था। ग्रुप मेंबर के पास लग्जरियस बाइक्स थीं, जिनकी कीमत लाखों में है। पचमढ़ी स्टे के दौरान VIP होटल से लेकर केटरिंग और बार का अरेंजमेंट भी था। बाइकर्स मीट तीन दिन की थी। इसमें नागपुर से चलित केटरिंग और बार बुक किया गया था।

रायपुर के चर्चित स्टील कारोबारी का बेटा था कपिल
बाइक राइडर कपिल कक्कड़ रायपुर के चर्चित स्टील कारोबारी तिलकराज कक्कड़ का इकलौता बेटा था। दुर्ग (पद्भनाभपुर) के कांट्रैक्टर कंवलजीत सिंह ओबेराय के बेटे हनी ओबेराय का भी बिजनेस है। हनी पिता का बिजनेस संभालता है। उसकी सुरक्षा के लिए पिता ने गार्ड को नौकरी पर रखा था। गार्ड सेना से सेवानिवृत्त है।

खबरें और भी हैं...