बाढ़ से अब्दुलागंज-नागपुर हाइवे नेशनल हाइवे पर जाम:जाम में फंसी एम्बुलेंस, दोपहर 3 बजे शुरू हुआ आवागमन, वाहनों की लगी कतार

होशंगाबादएक वर्ष पहले
अब्दुलागंज-नागपुर हाइवे पर जाम लगा।

होशंगाबाद। बैतूल में मानसून की दस्तक के साथ तेज बारिश से शुक्रवार को धार नदी में बाढ़ आ गई। जिससे अब्दुलागंज-नागपुर नेशनल हाइवे 69 पर जाम लग गया। करीब 5 घंटे नेशनल हाइवे बंद रहा। जाम में बैतूल से भोपाल मरीज को ले जा रही एम्बुलेंस भी फंसी। पानी कम होने पर दोपहर 2 बजे केसला और बैतूल के भौंरा पुलिस ने वाहनों को निकलना शुरू हुआ।

बैतूल में 10 जून से मानसून ने दस्तक दे दी है। गुरुवार से ही जिले में अलग-अलग हिस्सों में तेज बारिश हो रही। बारिश से पहाड़ी इलाकों में नदी-नाले ऊफान पर आ रहे। शुक्रवार सुबह बैतूल-इटारसी के बीच में धार नदी भी बाढ़ आ गई। जिससे नेशनल हाइवे सुबह 9 बजे से बंद हो गया। हाइवे पर पुल के दोनों ओर वाहनों की लंबी कतार लग गई। बाढ़ से 5 घंटे जाम लगा रहा। बैतूल से भोपाल मरीज ले जा रही 108 एम्बुलेंस भी बाढ़ में फंसी रही। MP में छाया मानसून:इंदौर, जबलपुर, होशंगाबाद और शहडोल के अधिकांश हिस्सों में पहुंचा; भोपाल और सागर के कुछ हिस्सों में भी सक्रिय

करीब 5 घंटे बाद बाढ़ का पानी उतरने के बाद मार्ग को चालू किया गया। पहले बड़े वाहनों व एम्बुलेंस को निकालने की कवायद शुरू की गई। छोटी गाड़ियों को बाद में भेजा गया। केसला व भौंरा पुलिस को जाम खुलने में करीब एक घंटे की मशक्कत करना पड़ा। दोपहर 3 बजे तक नेशनल हाइवे पर यातायात सामान्य हुआ।

नदी में बाढ़ आने से जाम में एम्बुलेंस फंस गई।
नदी में बाढ़ आने से जाम में एम्बुलेंस फंस गई।

8 साल में दूसरी बार समय से पहले आएगा मानसून:शुक्रवार दोपहर में हुई बारिश, मौसम में आई ठंडक, तापमान में गिरावट

खबरें और भी हैं...