MP में नहीं होगी शराबबंदी:CM शिवराज बोले- पीने वाले तो जुगाड़ बना ही लेते हैं, सरकार चलाएगी नशामुक्ति अभियान

नर्मदापुरम8 महीने पहले

पूर्व CM उमा भारती मध्यप्रदेश में शराबबंदी की मांग लगातार कर रही हैं। इसका जवाब मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सोमवार को सीधे शब्दों में दे दिया। CM ने कहा कि प्रदेश में शराबबंदी नहीं होगी। सरकार इसके बदले प्रदेश में नशामुक्ति अभियान चलाएगी। नर्मदापुरम के माखन नगर पहुंचे CM ने कहा- पीने वाले तो जुगाड़ लगा ही लेते हैं। नशा नाश की जड़ है। हम सब मिलकर प्रयास करेंगे, तो धीरे-धीरे अपना गांव और प्रदेश नशामुक्त हो जाएगा। इस मामले में आप अपनी राय यहां दे सकते हैं...

CM​​ ने ये बात माखननगर (पुराना नाम बाबई) में कही। वे राष्ट्रकवि माखनलाल चतुर्वेदी की जयंती समारोह में पहुंचे थे। माखननगर गौरव दिवस के मंच से मुख्यमंत्री ने कहा- सरकार अकेली पूरा प्रदेश नहीं बना सकती। सरकार और समाज को मिलकर सोचना पड़ेगा। CM ने कहा- मध्यप्रदेश का गेहूं निर्यात होगा। दिल्ली में इस सिलसिले में आज मीटिंग करने जा रहा हूं। दो बैठकें पहले भी कर चुका हूं।

CM ने कन्या पूजन से कार्यक्रम की शुरुआत की।
CM ने कन्या पूजन से कार्यक्रम की शुरुआत की।

शिवराज बोले- शठे शाठ्यं समाचरेत्

शिवराज ने साथ ही कहा- अपराधियों को दफन करना जरूरी है। सिर्फ जेल भेजना पर्याप्त नहीं है। जेल गए और जमानत पर आ गए। ऐसा तोड़ूंगा कि जीने के लायक नहीं बचेंगे। आर्थिक कमर तोड़ देंगे। उन्होंने श्लोक पढ़ा- शठे शाठ्यं समाचरेत् यानी दुष्ट के साथ दुष्टता का ही व्यवहार करना चाहिए। ये एक नीति वाक्य है जिसका उल्लेख महाभारत में बिदुर और घृतराष्ट्र के बीच संवाद में आया है। ये बिदुर नीति का भाग है।

शिवराज ने जो वाक्य कहा, उसका उल्लेख महाभारत की बिदुर नीति में है।
शिवराज ने जो वाक्य कहा, उसका उल्लेख महाभारत की बिदुर नीति में है।

CM के भाषण की प्रमुख बातें

  • मुख्यमंत्री ने कहा- बेटी का जन्म हो, तो ढोल-नगाड़े बजाएं। उत्सव मनाएं। अब कन्या विवाह योजना में एक बेटी की शादी पर 55 हजार रुपए खर्च किए जाएंगे। 2 मई को मध्यप्रदेश में लाडली लक्ष्मी दिवस मनाया जाएगा। प्रदेश में 40 लाख से अधिक लाडली लक्ष्मी हो गई हैं।
  • हर समाज के मेधावी छात्रों के लिए हमने योजना बनाई है कि मेडिकल कॉलेज में एडमिशन होने पर उनकी सारी फीस सरकार भरेगी।
  • आज मैं सबसे एक वादा और करता हूं कि आपको किसी को रिश्वत देने की जरूरत नहीं है। मैं गलत तरीके से धन अर्जन करने वाले उन भ्रष्टाचारियों को भी नेस्तनाबूद कर दूंगा।
  • हम गांव-गांव में सिंचाई और पेयजल के लिए योजना बना रहे हैं और इसमें लगभग 12,000 करोड़ का व्यय इस साल करेंगे।
यह स्वागत द्वार माखनलाल चतुर्वेदी के प्रतिमा स्थल से 100 मीटर दूर लगा था।
यह स्वागत द्वार माखनलाल चतुर्वेदी के प्रतिमा स्थल से 100 मीटर दूर लगा था।

CM के कार्यक्रम से पहले स्वागत द्वार गिरा
CM के कार्यक्रम से पहले माखनलाल चतुर्वेदी के प्रतिमास्थल से 100 मीटर की दूरी पर स्वागत द्वार गिर गया। हादसे में पुलिसकर्मी बाल-बाल बचे। मुख्यमंत्री ने माखन नगर में बस स्टैंड और‎ हाईस्कूल में स्टेडियम का‎ लोकार्पण किया। कार्यक्रम में प्रभारी मंत्री बृजेंद्र प्रताप सिंह भी पहुंचे।

CM शिवराज के रुख पर उमा का दर्द:पूर्व CM बोलीं- मार्च 2022 तक अच्छे संबंध रहे, भाई ने अनबोला क्यों कर दिया?... दिग्विजय की चुटकी- सामने आए मतभेद

खबरें और भी हैं...