पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

रेत खनन:ठेकेदार को रोज 2 हजार डंपर भरना जरूरी, बिना मशीन 50 भी नहीं भर पा रहे मजदूर

हाेशंगाबादएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • रेत खदान में अनुमति के बाद भी मशीनें नहीं चलाने दे रहे मुकद्दम

262 कराेड़ में प्रदेश का सबसे महंगा ठेका लेने के बाद भी रेत कंपनी जिले में रेत खनन नहीं कर पा रही है। नए ठेकेदार काे हर दिन 2 हजार डंपर भरना है लेकिन खदानाें पर मजदूर 50 डंपर भी रेत नहीं भर पा रहे हैं। एक डंपर काे भरने में काफी समय लग रहा है। ऐसे में कई डंपर खाली लाैट रहे हैं। जिले में रेत ठेका लेने वाली आरकेटीसी कंपनी के रिंकू बाेहरा ने बताया सरकार काे कराेड़ाें रुपए का राजस्व देने के लिए हर दिन 2 हजार डंपर रेत निकालना जरूरी है।

मशीनाें की अनुमति हाेने के बाद भी रेत खदानाें के मुकद्दम खनन नहीं करने दे रहे हैं। इधर, कंपनी ने 3.5 रुपए फीट में रेत भरने के दाम तय हाेने के बाद भी मजदूर रेत के 2 हजार डंपर नहीं भर पा रहे हैं। जिले में इतने मजदूर ही नहीं हैं। ऐसे में कंपनी काे 80 लाख घनमीटर रेत उठाने के लिए मशीनाें से खनन करना हाेगा। प्रशासन ने भी मजदूराें काे बैठक कर अवगत करा दिया है।

कंपनी और मजदूराेें के बीच सहमति बनी है। 3.5 रुपए फीट में रेत भरने की सहमति बनी है। कंपनी काे मशीनाें से खनन की अनुमति है। तवा नदी में खनन कर सकती है।
शशांक शुक्ला, खनिज अधिकारी

रेत खदान में 50 डंपर भी मजदूर प्रतिदिन नहीं भर पा रहे हैं। ऐसे में कंपनी काे 2 हजार डंपर भरने के लिए बिना मशीन के संभव नहीं है। कंपनी काे 80 लाख घनमीटर रेत उठानी है।
रिंकू बाेहरा, कंपनी प्रतिनिधि

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज समय कुछ मिला-जुला प्रभाव ला रहा है। पिछले कुछ समय से नजदीकी संबंधों के बीच चल रहे गिले-शिकवे दूर होंगे। आपकी मेहनत और प्रयास के सार्थक परिणाम सामने आएंगे। किसी धार्मिक स्थल पर जाने से आपको...

    और पढ़ें