पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

आशा कार्यकर्ताओं ने किया प्रदर्शन:वेतन बढ़ाने की मांग को लेकर प्रदर्शन, रैली निकाल कमिश्नर ऑफिस के सामने की नारेबाजी, तीनों जिले से बड़ी संख्या में शामिल हुई आशा कार्यकर्ता

होशंगाबाद15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
आशा , ऊषा कार्यकर्ताओं ने कमिश्नर ऑफिस के सामने प्रदर्शन किया। - Dainik Bhaskar
आशा , ऊषा कार्यकर्ताओं ने कमिश्नर ऑफिस के सामने प्रदर्शन किया।

वेतन बढ़ाने की मांग को लेकर आशा, ऊषा, आशा सहयोगी संयुक्त मोर्चा संगठन 6 सितंबर सोमवार दोपहर पीपल चौक पर प्रदर्शन किया। प्रदेश मोर्चा के आव्हान पर संभागीय मुख्यालय होशंगाबाद में पीपल चौक पर वेतन बढ़ाने की मांग को लेकर प्रदर्शन हुआ। प्रदेश में होशंगाबाद, हरदा और बैतूल जिले की आशा, ऊषा कार्यकर्ता व आशा सहयोगी बड़ी संख्या में शामिल हुई। प्रदर्शन के बाद रैली निकाल सभी कमिश्नर ऑफिस पहुंची। आशा कार्यकर्ता, सहयोगियों के पहुंचने के पहले कमिश्नर ऑफिस का मुख्य गेट बंद कर दिया गया। जिससे मेन गेट पर ही खड़े होकर सभी ने नारेबाजी की। फिर मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा गया।

संगठन की जिला अध्यक्ष चंपा कीर ने बताया राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन संचालक ने प्रतिनिधि मंडल से चर्चा में 24 जून को आशाओं को 10 हजार रुपए वेतन निश्चित दिए जाने का प्रस्ताव दिए जाने का निर्णय लिया गया था। आशाओं को 10 हजार और सहयोगियों को 15 हजार रुपए वेतन दिए की मांग को लेकर 35 दिन तक चली अनिश्चित कालीन हड़ताल को स्वास्थ्य मंत्री के आश्वासन पर स्थगित किया। लेकिन अभी तक सरकार ने हमारे वेतन संबंधी मांगों को लेकर निर्णय नहीं लिया है। सरकार को दोबारा याद दिलाने के लिए सोमवार को प्रदेशभर में संभागीय मुख्यालयों पर संगठन द्वारा प्रदर्शन किया। होशंगाबाद में पीपल चौक पर प्रदर्शन किया गया। पीपल चौक से रैली निकाल कमिश्नर ऑफिस तक पहुंची। कमिश्नर ऑफिस के सामने मुख्य द्वार बंद कर दिया गया। जिससे आशा कार्यकर्ताएं गेट के बाहर नारेबाजी करती रही।

खबरें और भी हैं...