पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

समस्या:मुश्किलों का अमृत: पाइपलाइनाें के लीकेज से खराब हाे रही सड़कें

हाेशंगाबाद8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • शहर के चौराहों पर पहले पानी की बर्बादी, फिर सड़कें होती खराब

शहर के कई प्रमुख चाैराहे ऐसे हैं जहां पेयजल याेजना की पाइप लाइन फूटने के चलते हमेशा ही पानी बहता रहता है। निरंतर पानी बहने के कारण उक्त सड़काें में गड्ढाें के कारण यातायात बाधित हाे रहा है। विशेषकर सर्किट हाउस चाैराहे पर अमृत पेयजल याेजना की मुख्य लाइन बार-बार फूट रही है। नर्मदा काॅलेज की ओर जाने वाली सड़क काे खाेदकर उक्त पाइपलाइन काे ठीक किया जाता है। हाल ही में पिछले चार दिनाें से पाइपलाइन की मरम्मत का कार्य चल रहा है।

सड़क की खुदाई जेसीबी मशीन से कराई गई है। खुदाई के बाद पाइपलाइन ताे सुधर जाती है, लेकिन सड़क की मरम्मत ठीक से नहीं हाेने के कारण यहां हमेशा के लिए गड्ढा हाे जाता है। इससे पहले भी पाइपलाइन में लीकेज हाेने के चलते सड़क खाेदी गई है। इसके अलावा जिला जेल के सामने तिराहे पर नपा की पेयजल याेजना की लाइन अक्सर फूटती रहती है। यहां भी हमेशा ही सड़क पर पानी बहने के कारण गड्ढे हाे जाते हैं। मीनाक्षी चाैराहे पर करीब 6 महीने बाद फूटी हुई पाइपलाइन काे सुधारा गया है।

स्टेट हाइवे-22 बाबई राेड पर गड्ढा : स्टेट हाइवे 22 बाबई राेड कालिका नगर के सामने अमृत की पाइप लाइन के लिए खाेदी गई सड़क का गड्ढा ठीक से नहीं सुधरने के कारण अब तक लाेगाें के लिए परेशानी का सबब बना हुआ है। बारिश में स्थानीय लाेगाें की शिकायत के बाद उक्त गड्ढे काे सुधारा गया था, लेकिन अब फिर से सड़क पर गड्ढा हाे गया है। इसी तरह रसूलिया एनएच 69 पर भी अमृत याेजना के तहत पाइपलाइन बिछाए जाने के लिए खाेदे गए गड्ढे की मरम्मत न हाेने के चलते लंबे समय तक लाेग परेशान रहे। मरम्मत के बाद भी बारिश में यह गड्ढा दाेबारा हाे गया था।

दाे दिन बाद हाेगी मरम्मत

अमृत पेयजल याेजना का काम करा नहीं कंपनी ह्ाूम पाइप के इंजीनियर भूपेश ढाेडके ने बताया कि सर्किट हाउस चाैराहे पर पाइप लाइन ठीक करने के लिए खाेदी गई सड़क की मरम्मत का काम दाे दिन में शुरू कराया जाएगा। साथ ही बाबई राेड पर मरमम्त कंपनी की ओर से तीन बार कराई जा चुकी है। मरम्मत संबंधित विभाग कराएगा।

खबरें और भी हैं...