क्या ऐसे रूकेगा कोरोना:भास्कर की पड़ताल; कलेक्टर के निर्देश हवा, रेलवे स्टेशन और बस स्टैंड से स्वास्थ्य टीम नदारद

होशंगाबाद6 महीने पहले
रेलवे स्टेशन पर बगैर थर्मल स्क्रीनिंग के आ रहे यात्री।

मप्र में कोरोना की तीसरी लहर की दस्तक के भोपाल, इंदौर, जबलपुर और ग्वालियर बड़े हॉटस्पॉट बनते जा रहे है। जिसे देखते हुए कलेक्टर नीरज कुमार सिंह ने होशंगाबाद में रेलवे स्टेशन और बस स्टैंड पर बाहर से आने वाले यात्रियों की कोरोना जांच करने के निर्देश दिए। बावजूद कलेक्टर के निर्देंश यहां हवा होते नजर आ रहे है। स्वास्थ्य विभाग तीसरी लहर को लेकर कितना गंभीर है, जिसकी पड़ताल दैनिक भास्कर ने की। होशंगाबाद रेलवे स्टेशन और बस स्टैंड पर दोपहर 3.30 बजे से 4.15 बजे दैनिक भास्कर टीम मौजूद रही। रेलवे स्टेशन पर दूर-दूर तक स्वास्थ्य विभाग की टीम नजर नहीं आई। स्टेशन पर बगैर मास्क और बिना चैकिंग के यात्री आते-जाते दिखे। ट्रेनों में भी यात्री बगैर मास्क और भीड़ में बैठे रहे। यहीं स्थिति बस स्टैंड पर दिखी। यहां भी स्वास्थ्य टीम नदारद रही। इधर सीएमएचओ डॉ. प्रदीप मोजेश का कहना है कि सुबह से शाम तक हमारी टीम रेलवे स्टेशन और बस स्टैंड पर जांच कर रही है। यात्रियों की स्क्रीनिंग और कांटेक्ट डिटेल लिख रही है। जबकि हकीकत कुछ ओर है।

ट्रेनों में बगैर मास्क और अधिक संख्या में बैठकर यात्रा।
ट्रेनों में बगैर मास्क और अधिक संख्या में बैठकर यात्रा।

कोरोना के हॉटस्पॉट भोपाल, नागपुर से आ रही ट्रेन व बसें

कोरोना की तीसरी लहर में हॉटस्पॉट बने शहर भोपाल, नागपुर की ओर से ट्रेन और बसें होशंगाबाद आ रही है। बड़ी संख्या में इटारसी, होशंगाबाद से शासकीय और प्रायवेट अधिकारी-कर्मचारी और अन्य लोग अप-डाउन करते है। ऐसे में स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही। जिले को दोबारा हॉटस्पाॅट बना सकती है।

रेलवे यात्रा के दौरान ही मिले कोरोना के मरीज

होशंगबाद में दिसंबर महीने में 6 से ज्यादा कोरोना के मरीज मिले। जिनमें सभी मरीज ट्रेन यात्रा के दौरान सामने आए। भोपाल और रानी कमलापति रेलवे स्टेशन पर रैपिड जांच में यह पॉजीटिव पाएं गए। स्वास्थ्य विभाग जाग नहीं पाया है।

नागपुर से आ रही बसें।
नागपुर से आ रही बसें।

बाहरी यात्रियों की करती है जांच

कलेक्टर नीरज कुमार सिंह ने कहा रेलवे स्टेशन और बस स्टैंड पर कोरोना जांच के निर्देंश दिए। शाम को स्वास्थ्य टीम क्यों नहीं थी। इसे मैं दिखवा लेता हूं। सुबह से शाम तक टीम को बाहर से आने वाले यात्रियों की स्क्रीनिंग व कांटेक्ट डिटेल लिखनी है।

खबरें और भी हैं...