पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

व्यापारियों में नाराजगी:एसडीएम का आदेश- टीका नहीं लगवाया तो बंद रहेंगी दुकानें

होशंगाबाद15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • एसडीएम के आदेश से व्यापारियों में नाराजगी बढ़ी

अगर किसी 45 प्लस वाले व्यापारी ने कोरोना का टीका नहीं लगवाया ताे उन्हें अपनी दुकान बंद रखनी पड़ेगी। यह फरमान एसडीएम इटारसी ने जारी किया है। दुकानों पर वैक्सीनेशन का सर्टिफिकेट लगाना होगा। व्यापारियों ने इस व्यवस्था काे नियम विरुद्ध बताया।

इस संबंध में इटारसी एसडीएम मदन सिंह रघुवंशी ने कहा कि हमने व्यापारियों को 3 दिन का समय दिया है। खुद व्यापारियों को टीकाकरण केंद्र पर जाकर कोरोना से सुरक्षा के लिए वैक्सीनेशन करवाना होगा। बिना टीका लगवाए कर्मचारी दुकान पर काम नहीं कर सकेंगे। एसडीएम ने कहा कि एक जून से बाजार नियमानुसार अनलॉक होगा। इसमें उन्हीं दुकानदारों को अपनी दुकान खोलने की अनुमति दी जाएगी। जिन्होंने कोरोना वायरस से सुरक्षा के लिए टीका लगवा लिया है।

व्यापारी संगठनों ने अनिवार्यता पर उठाए सवाल

1- कोविड वैक्सीनेशन के लिए दुकानदारों को मोटिवेट करना अलग बात है। पर ऐसा आदेश देना नियम विरुद्ध है कि वैक्सीन लगवाने पर ही दुकान खुलेगी। ऐसा ही करना है तो एसडीएम यह नियम पहले पेट्रोल पंप, राशन दुकान और शराब की दुकान पर लागू करें। प्रशासन बाजार खुलने पर बाजार में आए। हम भी वैक्सीनेशन के लिए आग्रह करने हर दुकानदार के पास जाने को तैयार हैं।
- दीपक अग्रवाल, अध्यक्ष, संयुक्त व्यापार महासंघ इटारसी।

2- हर व्यापारिक संस्थान पर वैक्सीनेशन का सर्टिफिकेट लगा होना चाहिए। यह आदेश तो गलत है। दुकानदारों को प्रेरित कर सकते हैं। उन पर अनावश्यक दबाव नहीं डाला जा सकता। कई दुकानदारों के फोन आने पर हमने एसडीएम से बात की। हर व्यापारी और कर्मचारी टीका लगवाए, यह हम भी चाहते हैं।
- गोविंद बांगड़, अध्यक्ष, किराना व्यापार महासंघ तथा डिस्ट्रीब्यूटर्स एसोसिएशन ऑफ इटारसी

3- 1 जून से बाजार खुलने पर कई ग्राहक दुकानदारों और उनके कर्मचारियों के संपर्क में आएंगे। कोरोना का टीका जरूरी है। टीका नहीं लगवाने के पीछे कोविड बीमारी से ठीक होना अथवा अन्य कोई हार्ट या शुगर की प्रॉब्लम हो सकती है। 3 दिन का अल्टीमेटम देना ठीक नहीं है। प्रशासन कम से कम 15 दिन का समय दुकानदारों को दें ताकि वे टीका लगवा सकें।
-राहुल चेलानी, अध्यक्ष, सिंधी व्यापार महासंघ इटारसी

खबरें और भी हैं...